Wed. Jan 20th, 2021

उत्तराखंड के सीएम त्रिवेन्द्र ने कोरोना से जंग जीतने के बाद शुरू किया कामकाज

नई दिल्ली : उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत अब पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं। उन्होंने आज से अपना कामकाज शुरू कर दिया है। अपना आइसोलेशन पीरियड पूरा करने के बाद आज दिल्ली स्थित आवास में उन्होंने फाइलों का निस्तारण शुरू कर दिया है।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र देहरादून में 18 दिसम्बर, 2020 को कोरोना संक्रमित पाए गए थे। उसके बाद वह आइसोलेशन में चले गए थे। अगले दिन उनकी पत्नी और एक बेटी की भी कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी और सभी लोग होम आइसोलेशन में थे। 21 दिसम्बर से उत्तराखंड विधानसभा के चार दिवसीय शीतकालीन सत्र में भी मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने वर्चुअल रूप से प्रतिभाग किया। हालांकि विपक्षी दलों ने इसे लेकर आपत्ति जताई थी।

उसके बाद 26 दिसम्बर को मुख्यमंत्री को तेज बुखार आने और छाती में इन्फेक्शन की शिकायत होने पर 27 दिसम्बर को उनके फिजीशियन डा. एसएन बिष्ट की सलाह पर उन्हें देहरादून के दून मेडिकल कालेज में उपचार के लिए भर्ती कराया गया।

वहां उनकी कुछ जरूरी जांच की गई, जिसके बाद चिकित्सकों ने उन्हे अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) दिल्ली में आगे की कुछ जरूरी जांच और उपचार की सलाह दी। उसी आधार पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत को कोरोना संक्रमित पत्नी और पुत्री के साथ एम्स दिल्ली शिफ्ट किया गया।

एम्स (दिल्ली) में उनकी कुछ जरूरी जांच करने पर छाती में इन्फेक्शन पाया गया, जिसका उपचार किया गया। स्वस्थ होने पर उन्हें 2 जनवरी को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया, जिसके बाद वह दिल्ली स्थित अपने आवास पर आइसोलेट हो गए। आइसोलेशन में रहने के बाद मुख्यमंत्री ने मंगलवार से अपना कामकाज पुनः शुरू कर दिया। आज उन्होंने अपने दिल्ली स्थित आवास पर कुछ जरूरी फाइलें भी निपटाईं।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)