Wed. Aug 12th, 2020

तीन तलाक देकर रात में पत्नी को घर से निकाला

1 min read

दुमका : तीन तलाक को अपराध का दर्जा दे दिए जाने के बाद भी मुस्लिम महिलाओं को प्रताड़ित करने का सिलसिला नहीं थम रहा है। जिले के शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र में एक मामला सामने आया है, जहां मामूली विवाद के बाद एक महिला को पति ने तीन तलाक कहकर आधी रात को घर से निकाल दिया।

महिला के परिजनों ने थाना जाकर लिखित आवेदन दिया। पीड़िता ने आवेदन में पति को तीन तलाक कहकर घर से निकालने व सास ससुर पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। पीड़िता शिकारीपाड़ा प्रखंड के शिवतल्ला गांव की रहने वाली है।

पीड़िता के पिता हबीब मियां ने बताया कि 2009 में उनकी बेटी सकीना का निकाह इसी प्रखंड के सिमरा गांव के करीम अंसारी के साथ हुआ था। शादी के 10 साल के दरम्यान सकीना को तीन बेटियां हुईं। अभी दो साल से शौहर और बीबी के रिश्तों में खटास है।

अक्सर दोनों के बीच किसी न किसी बात को लेकर कहासुनी हो जाती है। सास और ससुर भी उसे प्रताड़ित करते हैं। मामले को लेकर कई बार गांव में पंचायत भी हुई, लेकिन पति और ससुराल वालों के व्यवहार में बदलाव नहीं आया।

आए दिन ससुराल वाले सकीना की पिटाई करने लगे। शुक्रवार की रात फिर मियां-बीवी में कहासुनी हुई और शौहर ने सकीना की जमकर पिटाई कर दी। जब पिटाई से मन नहीं भरा तो सास ससुर के इशारे पर शौहर ने रात 11 बजे तीन बार तलाक कहकर सकीना को घर से निकाल दिया। सकीना ने बच्चों को साथ ले जाने का प्रयास किया तो शौहर ने बच्चों को जबरन अपने पास रख लिया।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)