Tue. Nov 24th, 2020

टांडा दुष्कर्म मामला : जावड़ेकर के तंज पर जयवीर शेरगिल का पलटवार

1 min read

नई दिल्ली : दुष्कर्म की घटनाओं को लेकर भाजपा सरकार को घेरने वाली कांग्रेस पार्टी को टांडा की घटना को लेकर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने निशाने पर लिया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस शासित राज्यों में बढ़ते दुष्कर्म के मामलों को लेकर भी राहुल गांधी, सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी को आगे आना चाहिए और न्याय की मांग करनी चाहिए। वहीं जावड़ेकर के इस तंज पर कांग्रेस प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने पलटवार किया है।

दरअसल, पंजाब के होशियारपुर के टांडा गांव में बिहार के दलित प्रवासी मजदूर की छह साल की बेटी के साथ दुष्कर्म हुआ और बाद में उसे मार दिया गया। इसी घटना को लेकर प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि जो लोग हाथरस और बाकी जगह जाते थे, उनसे मैं पूछता हूं राहुल और प्रियंका गांधी टांडा क्यों नहीं जाते, राजस्थान में 10 जगह बलात्कार की घटना हुई वहां क्यों नहीं जाते। कांग्रेस नेताओं को अपनी पार्टी द्वारा शासित राज्यों में हुई घटनाओं पर भी बोलना चाहिए, वहां जाना चाहिए ना कि हाथरस और अन्य जगहों पर जाकर चर्चाओं का केंद्र बनना चाहिए।

इस दौरान केंद्रीय मंत्री ने राजद नेता तेजस्वी यादव को भी निशाने पर लिया और कहा कि मैं मांग करता हूं कि बिहार की बेटी के साथ अत्याचार पर चुप रहने वालों के साथ वो बिहार का प्रचार करते हैं, कैसे चलेगा।

प्रकाश जावड़ेकर के इस बयान पर ही प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कांग्रेस प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने कहा कि राजस्थान और पंजाब के शासन पीड़ित और पीड़ित के परिवार को इंसाफ दिलाने के लिए तथा अपराधियों को कानून के हत्थे चढ़ाने का काम करती है। जबकि उत्तर प्रदेश और जहां भी भाजपा की सरकार है, वो बेटी डराओं और बेटी के परिवार को डराओं तथा बलात्कारी को बचाओं का काम करती है।

जयवीर शेरगिल ने कहा कि प्रकाश जावड़ेकर जी इधर-उधर की बातें न करें सिर्फ एक प्रश्न का उत्तर दें- जब भी इस देश में बलात्कार जैसी घटना होती है तो भाजपा और भाजपा का शासनकाल पीड़िता, पीड़िता के परिवार को डराने में और बलात्कारी को बचाने में क्यों लग जाते हैं।

 

 

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)