May 19, 2021

Desh Pran

Hindi Daily

फेक न्यूज़ फैलाना या शेयर करना एक दंडनीय अपराध : उपायुक्त

1 min read

रांची : रांची जिला प्रशासन की ओर से वैश्विक महामारी कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को रोकने और आमजनों को आवश्यक सुविधा मुहैय्या कराने के लिए लगातार प्रयास किया जा रहा है। इस दौरान मौके का फायदा उठा कर कुछ असामाजिक तत्वों की ओर से फेक न्यूज़ फैलाने की जानकारी जिला प्रशासन को प्राप्त हुई। इसके बाद कुछ लोगों के खिलाफ रांची पुलिस की साइबर सेल टीम की ओर से कार्रवाई भी की जा रही है और फेक न्यूज़ के प्रसार पर रोक लगाई गई।

कोरोना जैसी महामारी के बीच फेक न्यूज़ का फैलना आमजनों में अविश्वास और दुर्भावना पैदा कर सकता है। ऐसे में रांची जिला प्रशासन की ओर से लगातार सोशल मीडिया माध्यमों के जरिए फेक न्यूज़ फॉरवर्ड ना करने और ऐसा करने वालों की जानकारी रिपोर्ट करने की अपील की जा रही है। इसके अतिरिक्त आमजनों को फेक न्यूज़ पहचानने एवं आधिकारिक श्रोतों से ही प्राप्त सूचनाओं पर भरोसा करने की सलाह दी जा रही है।

उपायुक्त छवि रंजन ने गुरुवार को फेक न्यूज़ के संभाव्य प्रसार और इसके प्रतिकूल असर के मद्देनजर जिला जनसंपर्क कार्यालय को सभी माध्यमों से प्राप्त होने वाले फेक न्यूज़ की शिकायतों का संधारण करने और जरूरत पड़ने पर त्वरित पुलिस कार्रवाई के लिए निदेशित किया गया है।

जिला जनसंपर्क पदाधिकारी डॉ प्रभात शंकर ने उक्त निदेश के आलोक में अपने कार्यालय के सभी कर्मियों को एक्टिव रह कर किसी भी फेक न्यूज़ को हल्के में न लेने को कहा है। इसके अलावा ऐसे फेक न्यूज़ जिनके प्रसार की जानकारी विभिन्न माध्यमों से मिली है। इसके लिए प्रेस विज्ञप्ति और सोशल मीडिया हैंडल के माध्यम से प्रतिवेदन भी जारी किया जा रहा है।

उपायुक्त ने आमज़नों से अपील की है कि, ” आप किसी भी संचार माध्यम से किसी ऐसे न्यूज़ या सूचना को प्राप्त करते हैं जिसमें आपको आमजनों में डर की भावना पैदा करने का संदेह हो तो तुरंत ही ऐसी सूचना प्रसार की जानकारी जिला प्रशासन को दें।

जिला प्रशासन और रांची पुलिस की टीम इस पर त्वरित कार्रवाई करेगी।” इसके अलावा जिला जनसंपर्क कार्यालय रांची के सोशल मीडिया हैंडल और उपायुक्त रांची के आधिकारिक सोशल मीडिया हैंडल के जरिए भी आमजनों को फेक न्यूज़ के प्रति सचेत किया जा रहा है।

फेक न्यूज़ मिलने या इसकी पुष्टि होने पर यहां करें रिपोर्ट

रांची जिलावासियों से अपील है, अगर आप किसी भी तरह के फेक न्यूज़ या किसी फेक न्यूज़ फैलाने वाले सोशल मीडिया(ट्विटर हैंडल/फेसबुक पेज/व्हाट्सएप्प ग्रुप) के बारे में जानकारी देना चाहें तो हमारे ट्विटर हैंडल- * @DC_Ranchi* / *@DproRanchi* /पर रिपोर्ट कर सकते हैं।

किसी आपात स्थिति या जानमाल की हानि होने की संभावना के मद्देनजर आप तुरंत रांची पुलिस को 100 डायल कर संपर्क करें। इसके अलावा डीसी रांची के आधिकारिक फेसबुक पेज या जिला जनसंपर्क कार्यालय, रांची के फेसबुक पेज पर भी संपर्क कर सकते हैं। याद रहे, फेक न्यूज़ फैलाना या शेयर करना एक दंडनीय अपराध है।

 

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)