Sun. Jul 5th, 2020

रोटरी क्लब ने फ्रंटलाइन योद्धा के रूप में 50 डॉक्टरों को किया सम्मानित

रामगढ़ : अपने परिवार की चिंता किए बगैर डॉक्टर इस संकट की घड़ी में भी अपनी भूमिका निभाते रहे हैं, अपने परिवार के सदस्यों से दूर होने के बावजूद मरीजों का इलाज के दौरान बच्चों की तरह देख भाल की, जिसके परिणाम स्वरूप रामगढ़ में 127 मरीजों में से मात्र 4 केस एक्टिव रह गए हैं।

उक्त बातें बुधवार को शहर के थाना चौकी स्थित रोटरी हॉल के सभागार में आयोजित डॉक्टर्स डे को संबोधित करते हुए सिविल सर्जन डॉ नीलम चौधरी ने कही। उन्होंने कहा कि फ्रंटलाइन योद्धा के रूप में डॉक्टरों ने अपनी भूमिका निभाई है, इसकी जितनी भी प्रशंसा की जाए कम है। कोरोना जैसे वैश्विक महामारी में भी डॉक्टर की भूमिका सराहनीय रही है।

इससे पूर्व समारोह का शुभारंभ मुख्य अतिथि सिविल सर्जन डॉ नीलम चौधरी, क्लब के अध्यक्ष विजय कुमार, सचिव डॉ आलोक रतन चौधरी ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया। साथ ही अतिथियों के आगमन पर क्लब के सदस्यों द्वारा बुके देकर स्वागत किया गया। समारोह का संचालन निलंजन दत्ता ने किया।

समारोह में इन डॉक्टरों को किया गया सम्मानित

डॉ सुधीर आर्या, डॉ मृत्युंजय कुमार सिंह, डॉ ऋतुराज, डॉ अशोक बरेलिया, डॉ राहुल बरेलिया, डॉ स्वराज, डॉ मनोज कुमार सिन्हा, डॉ प्रीतीश प्रणय, डॉ अनिल कुमार सिंह, डॉ चंद्रा, डॉ केएन प्रसाद, डॉ आलोक रतन चौधरी, डॉ वीके सिंह, डॉ एके ठाकुर, डॉ एन पंडित, डॉ भरत सिंह, डॉ मिथिलेश प्रसाद, डॉ रिचा, डॉ शिखा भरद्वाज, डॉ रजत, डॉ अमित कुमार, डॉ कुंदन कुमार

तथा डॉ रोशन कुमार सिंह, डॉ रंजीत कुमार सिंह, डॉ विपुल कुमार, डॉ सुमित कुमार, डॉ नेहा, डॉ तबरेज अंजू, डॉ पंकज कुमार मंडल, डॉ आशुतोष कुमार, डॉ गौरव सिंह, डॉ दीपक कुमार, डॉ विनय मिश्रा, डॉ सत्येंद्र प्रसाद सिंह, डॉ साथी घोष, डॉ अखिलेश कुमार सिन्हा, डॉ विनोद कुमार, डॉ सुनील कुमार सिंह, डॉ रीना कुमारी, डॉ ऋतु सिंह, डॉ अशोक राम, डॉ शशि प्रभा, डॉ दिनेश कुमार, डॉ अशोक कुमार चौधरी सहित अन्य डॉक्टर शामिल थे। क्लब के ये सदस्य थे उपस्थित अरुण कुमार राय, राजेश कुमार, अभिषेक सर्राफ, दीपक अग्रवाल, डॉ निर्मला नाग,मदन महेश्वरी, कांता सोबती, जे पी सिंह, अनिल गर्ग, आनंद हेतम सरिया सहित कई लोग उपस्थित थे।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)