Sun. Sep 27th, 2020

रेलवे कर्मचारी अब घर बैठे पा सकेंगे ई-पास और पीटीओ

1 min read

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन ने लॉन्च किया ई-पास मॉड्यूल

नयी दिल्ली : रेलवे कर्मचारी अब घर बैठे ई-पास और प्रिविलेज टिकट ऑर्डर (पीटीओ) प्राप्त कर सकेंगे। रेलवे बोर्ड के चेयरमैन (सीआरबी) विनोद कुमार यादव ने रेलवे कर्मचारियों के लिये ऑनलाइन पास जेनरेशन और टिकट बुकिंग के लिए ई-पास मॉड्यूल लांच किया है। इससे न केवल रेलवे के सेवारत कर्मचारियों और अधिकारियों को, बल्कि इसके लाखों सेवानिवृत्त कर्मचारियों को भी सुविधा होगी।

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सेंटर फॉर रेलवे इंफॉर्मेशन सिस्टम (क्रिस) संगठन द्वारा विकसित इस मानव संसाधन प्रबंधन प्रणाली (एचआरएमएस) का ई-पास मॉड्यूल लॉन्च किया। इस दौरान, रेलवे बोर्ड के वित्त सदस्य, आईआरसीटीसी के प्रबंध निदेशक, क्रिस के प्रबंध निदेशक और सभी जोन के महाप्रबंधक सहित सभी सदस्य भी शामिल थे।

इस दौरान रेल मंत्रालय में मानव संसाधन विभाग के महाप्रबंधक ने ई-पास मॉड्यूल और इसके चरणबद्ध कार्यान्वयन की रणनीति के विभिन्न पहलुओं के बारे में जानकारी दी। अब तक, रेलवे में पास और पीटीओ जारी करने की प्रक्रिया काफी हद तक मैनुअल है। इसके अलावा, रेलवे कर्मचारी अपने पास या पीटीओ के माध्यम से ऑनलाइन टिकट बुक नहीं कर सकते हैं। इसके लिए उन्हें पीआरएस या बुकिंग काउंटर पर जाना होगा।

उल्लेखनीय है कि रेलवे के राजपत्रित अधिकारियों को अपने आश्रितों के साथ मुफ्त रेल यात्रा के लिए एक साल में छह और सेवानिवृत्त कर्मचारियों को तीन रेल पास मिलते हैं। गैर राजपत्रित कर्मचारियों को साल में तीन व सेवानिवृत्त होने पर दो पास मिलते हैं। रेल र्किमयों को चार पीटीओ भी मिलते हैं। पीटीओ से सफर करने के लिए उन्हें एक तिहाई किराया देना पड़ता है।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)