April 23, 2021

Desh Pran

Hindi Daily

राहुल का आरोप, तमिलनाडु की एआईएडीएमके सरकार को प्रधानमंत्री मोदी करते हैं कंट्रोल

1 min read

नई दिल्ली : तमिलनाडु समेत चार राज्यों और एक केंद्रशासित प्रदेश पुडुचेरी में विधानसभा चुनाव की घोषणा के साथ ही राजनीतिक दलों ने चुनावी अभियान तेज कर दिया है।

इसी क्रम में कांग्रेस के चुनावी अभियान को धार देने के लिए पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी तमिलनाडु के तीन दिवसीय दौरे पर हैं।

अपने दौरे के दूसरे दिन रविवार को राहुल ने तिरुनेलवेली जिले के एक कार्यक्रम में राज्य की एआईएडीएमके सरकार को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ई.के. पलानीस्वामी को केंद्र की मोदी सरकार कंट्रोल करती है।

आगामी छह अप्रैल को तमिलनाडु में चुनाव होने हैं, जिसके मद्देनजर राहुल गांधी राज्य के दौरे पर हैं। आज तिरुनेलवेली में आयोजित एक कार्यक्रम में शिरकत करने जा रहे राहुल गांधी ने सड़क किनारे लगे एक ठेले से नारियल पानी लेकर पीया।

इसके बाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा कि तमिलनाडु के मुख्यमंत्री को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कंट्रोल करना चाहते हैं। राहुल ने कहा, ‘मैं तमिलनाडु के मुख्यमंत्री से बहुत निराश हूं क्योंकि नरेन्द्र मोदी के खिलाफ खड़े होने और सवाल पूछने के बजाय उन्होंने आत्मसमर्पण कर दिया है।

आत्मसमर्पण का एक ही कारण है कि मुख्यमंत्री भ्रष्ट हैं और नरेन्द्र मोदी के पास प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और सीबीआई जैसे दूसरे संस्थान हैं।’

इससे पहले, कांग्रेस सांसद ने तिरुनेलवेली स्थित सेंट जेवियर कॉलेज के शिक्षकों से संवाद किया। उन्होंने कहा कि समाज महिलाओं को सम्मान और उनका सशक्तीकरण किए बिना सफल नहीं हो सकता। वहीं, शिक्षा को सभी के लिए आवश्यक बताते हुए उन्होंने इसे सिर्फ अमीरों के लिए सुलभ होने पर सवाल खड़ा किया।

इस दौरान उन्होंने कांग्रेस के सत्ता में आने पर गरीब छात्रों के लिए छात्रवृत्ति और महिलाओं की शिक्षा तक पहुंच बढ़ाने का वादा किया। उन्होंने कहा कि शिक्षा के जरिए ही महिलाओं का सशक्तीकरण सुनश्चित हो सकेगा।

शिक्षकों को संबोधित करने के दौरान राहुल गांधी ने पलानीस्वामी सरकार पर जनता के हितों की उपेक्षा करने का आरोप लगाया।

उन्होंने कहा कि राज्य की ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कषगम (एआईएडीएमके) सरकार लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने में पूरी तरह विफल रही है।

राहुल ने कहा, “वर्तमान परिस्थिति में नौकरियां हमारे देश के लिए मुख्य चुनौती है और मुझे विश्वास है कि अगर तमिलनाडु सरकार प्रभावी ढंग से काम करे तो फोन, शर्ट और बहुत सी चीजों के पीछे हम ‘मेड इन तमिलनाडु’ पाएंगे।”

राहुल गांधी ने तिरुनेलवेली के प्रसिद्ध अरुलमिगु नेलाइएप्पर मंदिर में पूजा-अर्चना भी की। मंदिर में दर्शन-पूजन के बाद उन्होंने पत्रकारों से बातचीत में मोदी सरकार पर हमला बोला।

उन्होंने कहा कि सभी धर्मों को राजनीति से जुड़ना चाहिए लेकिन मोदी सरकार बोलने की आजादी नहीं देती है। केंद्र की ये सरकार लोगों से बोलने अथवा आवाज उठाने तक का मौलिक हक छीनने में लगी है।

उन्होंने मोदी सरकार की तुलना अंग्रेजों से करते हुए कहा कि हम एक ऐसे शत्रु से लड़ रहे हैं जो अपने विरोधियों को कुचल रहा है लेकिन हम ये पहले भी कर चुके हैं। अंग्रेज नरेन्द्र मोदी से बहुत ज़्यादा शक्तिशाली थे। इस देश के लोगों ने जैसे अंग्रेजों को वापस भेज दिया वैसे ही हम मोदी को नागपुर वापस भेज देंगे।

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)