Thu. Jul 2nd, 2020

हैदराबाद एवं रांची की छात्रा के साथ हुए दुष्कर्म का विरोध

1 min read

छात्रों ने निकाला आक्रोश मार्च

रांची : हैदराबाद एवं रांची की लॉ कॉलेज की छात्रा के साथ हुए दुष्कर्म के विरोध में दोषियों के खिलाफ वीएमआईटी पॉलिटेक्निक तुपुदाना के छात्रों ने आक्रोश मार्च निकाला। वहीं पॉलिटेक्निक कॉलेज के प्राध्यापक विकास कुमार दो मिनट का मौन रखकर आत्मा को शांति की प्रार्थना की। इसके बाद कॉलेज से तुपुदाना चौक तक आक्रोश मार्च निकाला गया व मानव श्रृंखला बनाया गया।

कॉलेज के पूर्व छात्र वर्तमान में अभाविप रांची महानगर के मंत्री कुमार दुर्गेश ने कहा कि इस प्रकार की घटना पूरे समाज व देश को शर्मसार कर देने वाला है। हम सभी नागरिकों का यह कर्तव्य बनता है कि समाज में ऐसे लोगों को चिह्नित कर बहिष्कृत करने की आवश्यकता है। सरकार एवं न्यायालय को ऐसे मामलों में 24 घंटा के अंदर चौराहों फांसी की सजा दे देनी चाहिए, जो कि आने वाले समय में मिसाल का काम कर सके।

शिक्षिका राधा कुमारी ने कहा कि कानून को कार्रवाई करते हुए तुरंत दोषियों को फांसी पर लटका देना चाहिए। शिक्षिका पूजा ने बताया कि ऐसे कुकृत्य करने वालों को गर्म तेल में डालकर तड़पाना चाहिए और उन्हें घृणित कार्य के लिए तुरंत फांसी या मौत की सजा देनी चाहिए। शिक्षिका वंदना वेग ने कहा कि फास्ट ट्रैक कोर्ट में मामला ले जाकर तुरंत फांसी की सजा होनी चाहिए।

प्रदर्शन में निधि शर्मा, अंजू, मनीषा, संध्या, प्रियंका, रजनी, निम्मी, संगीता, निम्मी, पंकज श्रीवास्तव, अभिषेक, गौरव, अशोक, दिनेश, दीपक, दर्शन, सुनील सहित शामिल छात्र-छात्राएं ने अपना रोष व्यक्त किया।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)