Sat. Oct 31st, 2020

सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले को लेकर राजनीति गरमाई

मुंबई : फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या पर अब जोरदार राजनीति शुरु हो चुकी है। इस मामले की जांच को लेकर जहां एक ओर मुंबई पुलिस पर सवाल उठाए जा रहे हैं। शिवसेना, कांग्रेस व राकांपा की ओर मुंबई पुलिस का समर्थन किया जा रहा है। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के विधायक रोहित पवार ने कहा कि मुंबई सहित महाराष्ट्र में और भी कई फिल्म अभिनेता, उद्योगपति, किसानों ने आत्महत्या की है, इस पर कोई सवाल क्यों खड़ा नहीं कर रहा है। इस मामले का पूरी तरह राजनीतिकरण कर दिया गया है।

सुशांत सिंह आत्महत्या मामले में सोमवार को पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस ने सवाल खड़ा किया है। अमृता ने कहा कि जिस तरीके से फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या की जांच की जा रही है, उससे लगता है मुंबई अब निर्दोष, सीधे सादे लोगों के लिए रहने लायक नहीं रह गई है।

अमृता फडणवीस के इस आरोप का जवाब शिवसेना राज्यसभा सदस्य प्रियंका चतुर्वेदी ने दिया है। प्रियंका ने कहा कि जिस पुलिस का कवच लेकर अमृता घुम रही हैं, उसी पुलिस की शिकायत वह कर रही हैं। अगर अमृता को मुंबई पुलिस पर भरोसा नहीं है तो उन्हें पहले मुंबई पुलिस की सुरक्षा वापस कर देनी चाहिए। शिवसेना नेता वरुण सरदेसाई ने कहा कि अमृता फडणवीस ने पुलिस के प्रोग्राम में ही अपना नाच गाना का प्रोग्राम किया था और अब वह उसी मुंबई पुलिस की शिकायत कर रही हैं। उन्हें शर्म लगनी चाहिए।

शिवसेना प्रवक्ता संजय राऊत ने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत मामले पर राजनीति बिहार में होने वाले चुनाव की वजह से की जा रही है। अगर बिहार में सीएम नीतीश कुमार ने जनता का काम किया होगा तो उन्हें इस तरह की राजनीति करने की जरुरत नहीं है। संजय राऊत ने कहा कि जिनके घर सीसे के रहते हैं, उन्हें दूसरे के घर पर पत्थर नहीं फेंकना चाहिए। समझदार को इशारा काफी है। राजस्व मंत्री बालासाहेब थोरात ने कहा कि इस मामले की जांच मुंबई पुलिस सही तरीके से कर रही है। इस मामले में अनायास राजनीति की जा रही है। साथ ही मुंबई पुलिस की जांच में बिहार पुलिस को सहयोग करना चाहिए।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)