Wed. Aug 12th, 2020

कोरोना खतरे को देखते हुए 15 दिनों पर पुलिसकर्मी का बदलेगा ड्यूटी

1 min read

रांची के एसएसपी ने तैयार की है नयी कार्ययोजना

रांची : कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लागू लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने में लगे प्रदेश पुलिस के जवानों के साथ अधिकारी भी कोविड-19 की चपेट में आ रहे हैं। कानून-व्वयस्था दुरुस्त रखने के साथ लोगों की मदद करने में सक्रिय पुलिसकर्मी इस संकट की घड़ी में लगातार कोरोना वायरस के संक्रमण की चपेट में आ रहे हैं।

आम लोगों की जान को बचाने के लिए यह मैदान में डटे पुलिसकर्मी के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद से खलबली मची है। पॉजिटिव के लक्षण के बाद अधिकांश पुलिसकर्मी क्वॉरंटाइन हैं। कोरोना खतरे को देखते हुए रांची एसएसपी सुरेद्र कुमार झा ने थानो में पदस्थापित पुलिसकर्मियों को तीन कैटेगरी में बांटकर ड्यूटी लिये की तैयारी में जुट गए है।

इस योजना के तहत रांची के थानों में तैनात पुलिसकर्मियों को एक्टिव, रिजर्व और क्वारेंटाइन यानी तीन भागों में बांटा जायेगा। पुलिसकर्मियों की 15 दिनों पर ड्यूटी बदली जायेगी। जो पुलिसकर्मी (एक्टिव) ड्यूटी करेंगे उन्हें 15 दिनों के अंतराल बाद क्वारेंटाइन में भेज दिया जायेगा। उनकी जगह रिजर्व कैटेगरी को ड्यूटी पर लगाया जायेगा। अब जो 15 दिनों के क्वारेंटाइन कर चुके जवान होंगे, वे रिजर्व कैटेगरी में आ आयेंगे।

एसएसपी ने बताया कि कोरोना संक्रमण के खतरा को देखते हुए ऐसी कार्यप्रणाली पर विचार किया जा रहा है। एक्टिव से क्वारेंटाइन, क्वारेंटाइन से रिजर्व और रिजर्व से एक्टिव का चक्र चलता रहेगा, ताकि पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित होने से बचेंगे और लंबे समय तक लोगों की सेवा करते रहेंगे। साथ ही जिले के थानों में बदली व्यवस्था में काम चल रहा है।

फिलहाल आम लोगो के थाना प्रवेश पर रोक के बाद से ड्रॉप बॉक्स की व्यवस्था की गयी है साथ ही ऑनलाइन एफआइआर भी लोग दर्ज करा रहे है। हालांकि गंभीर शिकायतें ड्रॉप बॉक्स के अलावा थाना प्रभारी के व्हाट्सएप और ऑनलाइन एफआइआर सिस्टम के माध्यम से दर्ज की जा रही हैं।

पुलिस लाइन, थाने के बाद मुख्यायल तक पहुंचा कोरोना

रांची में कोरोना संक्रमण से थाने, मुख्यालय, पुलिस लाइन सहित कई अन्य विंग चपेट में है। पुलिस मुख्यालय, आईआरबी, एसएसपी आवास, सिटी कंट्रोल, कोतवाली थाना, गोदा थाना, विशेष शाखा सहित कई जगहो पर पुलिसकर्मी कोरोना के चपेट में है। एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने बताया की जिन पुलिसर्किमयों में कोरोना का लक्षण दिख रहा है उसे रिम्स, मेडिका, सीसीएल हॉस्पीटल के साथ साथ कुटे स्थित विस्थापित सेंटर में भर्ती किया जा रहा है, जहां अभी करीब 150 पुलिसकर्मी का इलाज चल रहा है। पुलिस के बैरक में जहां कोरोना पॉजिटिव पाया गया है वहां सैनिटाइज कराने के बाद ही उस बैरक को दोबारा खोला गया है।

इसके अलावा जो पुलिसकर्मी छुट्टी से आये हैं, उन्हें 14 दिनों के लिए क्वारेंटाइन में अवधि पूरी करने के बाद ही ड्यूटी पर लगाया जा रहा है। शहरी क्षेत्र के कई थानों और पुलिस लाइन में सेनीटाइजर स्प्रे मशीन, सेनीटाइजर लेग मशीन लगाया गया है। वही पुलिस लाइन, थाना सहित कई अन्य जगहों पर करीब 5749 मास्क व 5749 सेनीटाइजर, 1091 पीपीई किट, 450 कैप उपलब्ध कराये गये हैं।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)