Wed. Apr 1st, 2020

कश्मीर पर फैसले से बौखलाया पाकिस्तान, राजौरी में तोड़ा सीजफायर, भारतीय सेना ने दिया माकूल जवाब

1 min read

 

अनुच्छेद 370 पर फैसले के बाद पाकिस्तान ने पहली बार सीजफायर का उल्लंघन किया है। पाकिस्तानी रेंजर्स ने राजौरी में नियंत्रण रेखा (LoC) पर गोलीबारी की।

 

जम्मू : जम्मू-कश्मीर पर मोदी सरकार के फैसले से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। आज भी पाकिस्तानी रेंजर्स ने जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर सीजफायर का उल्लंघन किया। सेना के एक अधिकारी ने कहा कि पाकिस्तान की तरफ से सुंदरबनी सेक्टर में 12:40 बजे गोलीबारी की, जिसका भारतीय जवानों ने भी माकूल जवाब दिया।

 

उन्होंने बताया कि दोनों तरफ से दोपहर ढाई बजे तक गोलीबारी जारी रही। पिछले चार दिनों में दूसरी बार है जब पाकिस्तान ने सीजफायर का उल्लंघन किया है। तीन अगस्त को पाकिस्तान ने पुंछ के मेंढर सेक्टर में गोलीबारी की थी। पिछले महीने जुलाई में पाकिस्तान की तरफ से गोलीबारी में सेना के दो जवान शहीद हो गए थे और एक दस दिन की बच्ची की मौत हो गई थी।

 

आज ही सेना के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि पाकिस्तान  ने पिछले कुछ दिनों से नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर आतंकवादियों की संख्या बढ़ाने और घुसपैठियों को जम्मू-कश्मीर में प्रवेश कराने की कोशिशें तेज कर दी हैं। उत्तरी कमान के जनरल ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ, लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने कहा कि पाकिस्तान संघर्ष विराम उल्लंघन भी कर रहा है।

 

सिंह ने कहा कि अगर पाकिस्तानी सेना नुकसान पहुंचाने वाले अपने रास्ते पर चलती रही तो भारतीय सेना मुंहतोड़ जवाब देगी और उसे इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ जाएगी। उन्होंने श्रीनगर में खुफिया और सुरक्षा एजेंसियों के कोर ग्रुप की बैठक की अध्यक्षता की। ताकि सुरक्षा स्थिति पर प्रतिकूल असर डालने वाले किसी दुस्साहस से निपटने के लिए संचालन तैयारी की समीक्षा की जा सके।

 

 

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को हटाए जाने और राज्य को दो केन्द्र शासित प्रदेशों (जम्मू-कश्मीर और लद्दाख) के रूप में विभाजित करने का प्रस्ताव संसद में पेश किए जाने के एक दिन बाद यह बैठक की गई है। उधमपुर में तैनात थल सेना के अधिकारियों द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार लेफ्टिनेंट जनरल सिंह ने यह भी कहा कि शांति एवं सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

 

सेना कमांडर ने इस बात का जिक्र किया कि पिछले कुछ दिनों में पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा के पास स्थित आतंकी शिविरों में आतंकवादियों की संख्या बढ़ाने की कोशिशें तेज कर दी है। साथ ही, पाक संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रहा है, घुसपैठियों को जम्मू-कश्मीर में भेजने की कोशिश कर रहा है, राज्य के आंतरिक हिस्सों में आतंकवादी हरकतों को अंजाम दे रहा है और जम्मू-कश्मीर में एक दुष्प्रचार शुरू करने के लिए सोशल मीडिया का भी इस्तेमाल कर रहा है।

 

उन्होंने कहा कि भारतीय थल सेना ने पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया है और देश में गड़बड़ी पैदा करने के उनके नापाक मंसूबों को नाकाम कर दिया है। उन्होंने लोगों से कहा कि लगातार दुष्प्रचार के जरिये उनके दिमाग में जहर भरने की कोशिश की जा रही है लेकिन वे दुश्मनों के इस जाल में ना फंसे।

 

उन्होंने कहा कि अफवाह ना फैलाएं और साथ ही अपने निकट एवं प्रिय लोगों को भी अफवाह फैलाने वालों से दूर रखें। रक्षा प्रवक्ता ने बताया कि भीड़ को नियंत्रित करने, कानून एवं व्यवस्था को बिगड़ने से रोकने और आतंकवाद-रोधी प्रभावी कार्रवाईयों के लिए संवेदनशील स्थानों एवं इलाकों में पर्याप्त सुरक्षा बल तैनात किए गए हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)