Sat. Jan 23rd, 2021

पाक पीएम इमरान खान की हिमाकत, गिलगित-बाल्टिस्तान को दिया अंतरिम प्रांत का दर्जा

1 min read

इस्लामाबाद : पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने गिलगित-बाल्टिस्तान को अंतरिम प्रांत का दर्जा देने का ऐलान कर दिया है। रविवार को वह 73वें स्वतंत्रता दिवस के समारोह में पहुंचे थे जहां उन्होंने यह ऐलान किया है। इससे पहले इमरान ऐलान कर चुके हैं कि गिलगित-बाल्टिस्तान को संवैधानिक अधिकार दिए जाएंगे और नवंबर में चुनाव भी कराए जाएंगे। गौरतलब है कि भारत इस कदम का विरोध करता आया है और पाकिस्तान के अंदर ही इसे चुनौती मिल चुकी है।

पाकिस्तान के जियो न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक खान ने यहां कहा, ‘मेरे गिलगित-बाल्टिस्तान आने का एक कारण यह ऐलान करना है कि हमने इसे प्रविजनल प्रांत का दर्जा देने का फैसला किया है। हमने यह फैसला संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के रेजॉलूशन को ध्यान में रखते हुए किया है। खान ने कहा कि वह गिलगित-बाल्टिस्तान को दिए जाने वाले पैकेज के बारे में चर्चा या ऐलान नहीं कर सकते हैं, क्योंकि चुनाव के चलते लागू हुए नियमों का उल्लंघन होगा।

देश का विपक्ष नाराज

जमीयत-ए-उलेमा इस्लाम-एफ चीफ मौलाना फजलुर रहमान ने तो जीबी को प्रांत बनाने के खिलाफ ही रुख अपनाया हुआ है। रहमान के मुताबिक ऐसा करने से भारत का जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाने का फैसला भी वैध साबित हो जायेगा। विपक्ष ने सेना अध्यक्ष कमर जावेद बाजवा को एक बैठक में चुनाव के बाद इस मुद्दे पर चर्चा का आश्वासन दिया था, लेकिन इमरान ने पहले ही ऐलान कर दिया है।

नवंबर में चुनाव का ऐलान

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने ऐलान किया है कि गिलगित-बाल्टिस्तान को संवैधानिक अधिकार दिये जाएंगे। उन्होंने कहा, यहां नवंबर में चुनाव कराए जाएंगे। चुनाव प्रक्रिया के चलते वह गिलगित-बाल्टिस्तान के लिए विकास पैकेजों की अभी घोषणा या चर्चा नहीं कर सकते। इमरान के कहा, हमने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों को ध्यान में रखते हुए यह निर्णय लिया है।

भारत ने जताया कड़ा विरोध, कहा-पीओके खाली करे पाकिस्तान

पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ एक और हिमाकत की है, जिसका भारत ने पुरजोर विरोध किया है। भारत के हिस्से गिलगित-बाल्टिस्तान को पाकिस्तान ने अंतरिम राज्य घोषित करने की इमरान खान की इस हरकत पर भारत ने कड़ा जवाब दिया है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा, भारत सरकार पाकिस्तान के भारतीय क्षेत्र में अवैध कब्जे और फेरबदल को रिजेक्ट करती है। लद्दाख (गिलगित बाल्टिस्तान समेत), जम्मू-कश्मीर भारत के अभिन्न अंग हैं।

भारत ने रविवार को पाकिस्तान को कड़े शब्दों में स्प्ष्ट किया है कि पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में किसी भी तरह का बदलाव स्वीकार नहीं किया जाएगा। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि पीओके में किसी भी तरह का बदलाव स्वीकार नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा, मैं फिर से स्पष्ट कर दूं कि केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर, लद्दाख और गिलगित-बाल्टिस्तान समेत पीओके भारत का अभिन्न अंग है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इस तरह के प्रयास पाकिस्तान के अवैध कब्जे का दावा करते हैं। इस तरह के प्रयासों से इन पाक अधिकृत क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के सात दशकों से अधिक समय तक मानव अधिकारों के उल्लंघन और आजादी से वंचित रखने को नहीं छुपाया जा सकता। उन्होंने कहा- हम पाकिस्तान से अपने अवैध कब्जे वाले सभी क्षेत्रों को तुरंत खाली करने का आह्वान करते हैं।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)