Mon. Nov 23rd, 2020

हमेशा विरोध में रहने वाले लोग बिहार को विकास नहीं बर्बादी के पुराने रास्ते पर ले जाएंगे : नरेंद्र मोदी

1 min read

भागलपुर : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को भागलपुर में अपने संबोधन की शुरुआत अंगिका भाषा में करते हुए कहा कि हमें दानवीर कर्ण की चंपा नगरी, आरो मंदार पर्वत, बाबा बासुकीनाथ, अजगैबीनाथ आरू श्रृंगी ऋषि के पवित्र भूमि का प्रणाम करे छिये। प्रधानमंत्री ने कहा कि बिहार चुनाव की यह आज की मेरी तीसरी सभा है।

नीतीश कुमार की अगुवाई में भाजपा, जदयू, हम और वीआईपी के गठबंधन के पक्ष में बिहार की जनता का मकसद मैं जान गया हूं। जनता का मिजाज मैं देख रहा हूं। बिहार की जनता नीतीश कुमार को दोबारा मुख्यमंत्री बनाने का संकल्प ले चुकी है। बिहार के लोगों के लिए यह जरूरी भी है ताकि देश को सशक्त करने के लिए जो फैसले लिये गए हैं वह बिहार में भी तेजी से लागू हो। वर्ना एनडीए के विरोध में आज जो लोग खड़े हैं वह देश के हर फैसले का विरोध कर रहे हैं।

ये लोग जम्मू—कश्मीर से धारा 370 हटाने, तीन तलाक के विरोध में कानून बनाकर मुस्लिम महिलाओं को अधिकार देने, आतंकियों पर कोई कार्रवाई करे या सरहद पर तिरंगे की शान बढ़ाएं यह लोग विरोध में लगे हुए हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनाने को कहें यह लोग उसका भी विरोध करते हैं। राष्ट्रहित में कोई भी कुछ भी फैसला लें लो ये लोग विरोध करते हैं।

हमेशा विरोध में रहने वाले लोग बिहार को विकास नहीं बर्बादी के पुराने रास्ते पर ही ले जाएंगे। आपकी जरूरतों से इन लोगों का कोई सरोकार नहीं है। जब-जब बिहार ने इन लोगों पर विश्वास किया है बिहार के साथ बिहार के गौरव के साथ विश्वासघात किया गया। बिहार को लूट कर इन लोगों ने अपने परिवार की तिजोरियां भरी हैं। समाज के अन्य वर्ग हमारे दलित, महादलित और आदिवासी परिवार की चिंता इन लोगों ने कभी नहीं की।

इनके लिए अपने रिश्तेदारों के भलाई आगे कुछ नहीं। प्रधानमंत्री ने कहा कि बिहार जहां लोकतंत्र के बीज बोए गए। यहां कभी जंगलराज हुआ करता था। वह बिहार भ्रष्टाचार मुक्त शासन का हकदार नहीं बल्कि विकास का हकदार है। आज एनडीए नीतीश कुमार की अगुवाई में बिहार को सुशासन दे रहे हैं। बिहार के विकास में जी-जान से जुटे हुए हैं। बिहार बेहतर कानून व्यवस्था का हकदार है।

बिहार अच्छी शिक्षा के अवसरों का भी हकदार है। प्रधानमंत्री ने कहा कि बिहार के शहरों की जो हालत इन लोगों ने कर दी थी, वह आप अच्छी तरह से जानते हैं। छोटे दुकानदार व्यापारी परेशान था। आज बिहार की स्थिति बदल गई है।

पीएम ने कहा कि बिहार के लिए सवा लाख करोड़ रुपए का प्रधानमंत्री फंड के घोषित किया गया है।बिहार में 3000 किलोमीटर के राष्ट्रीय राजमार्ग बने हैं। उनको चौड़ा किया जा रहा है। भागलपुर बांका के साथ-साथ आसपास के कई जिलों को इसका फायदा होगा। लगभग 700 किलोमीटर रेलवे लाइनों के चौड़ीकरण और विद्युतीकरण का काम भी बिहार में तेजी से आगे बढ़ रहा है।

पीएम ने कहा कि आज गंगा नदी पर हर 25 किलोमीटर पर एक पुल बनाया जा रहा। मुंगेर में रेल महासेतु पहले ही पूरा हो चुका है। कुछ दिन पहले ही विक्रमशिला सेतु के नए पुल का काम भी शुरू हुआ। यह जब बनकर तैयार हो जाएगा तब विशेष रूप से हमारे व्यापारियों और शिव भक्तों को इससे बहुत सुविधा होगी। गंगा नदी के अलावा किउल नदी और कोसी नदी पर भी पुल बनाया जा रहा है। इससे भागलपुर सहित बिहार के अनेक शहरों और व्यापारियों का इसका फायदा होगा।

पीएम ने कहा कि बिहार की मंडियों से जुड़ा कानून तो यहां पहले ही खत्म कर दिया गया है। अब बिहार में कृषि इनपुट पर और तेजी से काम होने की संभावना बढ़ी है। अब बिहार के गांवों में छोटे शहरों में व्यवस्था का और विस्तार होगा। जो नए कानून बने हैं उसका आम लीची और केले की पैदावार करने वाले किसानों को बहुत मदद मिलने वाली है। खेत के पास सुविधाएं तैयार होगी। सरकार ने इसके लिए 1,00,000 रुपये का फंड बनाया है। किसान उत्पादक और बना सकते हैं और इसका लाभ उन्हें होगा।

पीएम ने कहा बिहार में धान की सरकारी खरीद 4 गुना बढ़ी है। पीएम ने कहा कि बिहार की प्रगति के लिए नीतीश कुमार की अगुवाई में एनडीए गठबंधन को एक-एक नागरिक का मत पड़ना चाहिए। मतदान देने के लिए बूथ पर जाना होगा। कोरोना से बचने के उपायों का इस्तेमाल करें। पीएम ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि त्योहार के मौसम में स्थानीय उत्पादों की की खरीददारी करें।

भागलपुर की सिल्क, मंजूषा पेंटिंग, दीए और खिलौने खरीदें। इसके पूर्व सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री ने देश के विकास के अलावा बिहार को विकास के रास्ते पर ले जाने के लिए विशेष पहल की है। अब हम लोग एक ही बात कहेंगे कि आप लोग चाहते हैं बिहार विकास के रास्ते पर आगे बढ़ता जाए समाज के हर तबके के उत्थान हो तो एकजुट होकर एनडीए के सभी उम्मीदवारों को भारी मतों से विजयी बनाइए।

आप सबको मालूम है भागलपुर विक्रमशिला सेतु के सामानांतर 4 लेन का पुल बनाने की स्वीकृति पीएम ने प्रदान कर दी है। उसका काम भी बहुत जल्द होने वाला है। बिहार में कुछ लोगों को काम करने का मौका मिला तो लोगों को कोई राहत नहीं दिला सके। लेकिन जब हम लोगों को काम करने का मौका मिला तो हमलोगों ने काम करके दिखाया। यहां जो दंगा हुआ था देश में आजादी के बाद इतना बड़ा दंगा हुआ था। हमलोगों ने दंगा पीड़ितों के लिए काम किया। आज भी पीड़ितों को सहायता राशि दी जा रही है। हम लोग तो सबके लिए काम करते हैं। लेकिन लोगों को काम करने का मौका मिला तो सिर्फ अपने बारे में सोचते हैं। अपने परिवार के बारे में सोचते हैं। लेकिन हमलोगों के लिए पूरा बिहार हमारा परिवार है।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)