Thu. Sep 24th, 2020

कृषि विज्ञान केंद्र में आयोजित हुआ पोषण जागरूकता कार्यक्रम

1 min read

रामगढ़ : जिले के मांडू प्रखंड स्थित कृषि विज्ञान केंद्र में मंगलवार को पोषण जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। केंद्र के प्रभारी दुष्यंत कुमार राघव ने बताया कि भारत सरकार की पहल पर भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद ने देश भर के कृषि विज्ञान केंद्र के माध्यम से न्यूट्री सेंसिटिव एग्री रिसोर्सेस एंड इन्नोवेशंस कार्यक्रम शुरू किया है।

जिसका उद्देश्य विभिन्न क्षेत्रों के माध्यम से खाद्य प्रणालियों में बदलाव लाकर कुपोषण को दूर करने के लिए पोषण के विभिन्न पहलुओं पर कृषि महिलाओं और अन्य लोगों को जागरूक करना है।

कार्यक्रम को जिले में सफल बनाने के लिए कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिकों द्वारा जिले के विभिन्न गांवों में महिलाओं, पुरुषों एवं बच्चों समेत प्रगतिशील किसानों के बीच कुपोषण को दूर करने के लिए पोषक तत्व एवं पोषक वाटिका, पोषक थाली और पोषक गांव को बढ़ावा देने के लिए पोषण उत्पादों का उत्पादन करके युवाओं में उद्यमिता के विकास के लिए जागरूक करने में निरंतर लगे हैं।

उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम के तहत 100 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित करने का उद्देश्य है। 17 सितंबर को 40 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए एक विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन भी किया जाएगा।

इस कार्यक्रम में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और खेत की महिलाओं में जागरूकता पैदा करने तथा उनके घर के आस-पास न्यूट्री गार्डन स्थापित करने पर प्रशिक्षण दिया जाएगा।

केंद्र के वैज्ञानिक इंद्रजीत ने बताया कि अभी तक जिले के 3 गांव में इस तरह के प्रशिक्षण का आयोजन कर जन समुदाय के बीच कुपोषण से बचने के लिए पोषक तत्व, पोषक वाटिका, पोषक थाली के विषय पर प्रशिक्षण दिया जा चुका है। इस माह के अंत तक अन्य विभिन्न ने गांव तथा केंद्र में भी प्रशिक्षण दिया जाएगा।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)