Fri. Sep 25th, 2020

2011 विश्व कप फाइनल फिक्स होने का कोई प्रमाण नहीं

कोलम्बो : भारत में हुए 2011 एकदिवसीय विश्व कप फाइनल के फिक्स होने का कोई प्रमाण नहीं मिला है और तत्कालीन श्रीलंकाई खेल मंत्री महेंद्रानंद अलुथगमागे के फाइनल फिक्स होने आरोप बेबुनियाद साबित हुए हैं। भारत ने फाइनल में श्रीलंका को हराकर खिताब जीता था।

विश्व कप फाइनल फिक्स होने के आरोपों की जांच पूरी हो गयी है और खिलाडि़यों को क्लीन चिट दे दी गयी है। विशेष जांच दल के प्रमुख जगत फोन्सेका ने यह जानकारी दी है। जांच दल ने फिक्सिंग के आरोपों को लेकर विश्व कप के समय कप्तान रहे कुमार संगकारा, उपकप्तान रहे माहेला जयवर्धने, उस समय राष्ट्रीय चयन समिति के अध्यक्ष रहे अरविन्द डी सिल्वा और सलामी बल्लेबाज उपुल तरंगा से पूछताछ की थी।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)