Tue. Nov 24th, 2020

देश से नफरत को खत्म करने की आवश्यकता, एकता और अखंडता से ही होगा विकास : सैयद सलमान नदवी

1 min read

भागलपुर : विश्व विख्यात इस्लामिक धर्मिक गुरु सैयद सलमान हुसैनी नदवी ने शनिवार को भागलपुर में कहा कि लोगों को अल्लाह और अल्लाह के अंतिम पैगम्बर जनाब मोहम्मद सल्लाहो अलैहि के बताए मार्ग पर चलने की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि आज दुनिया जितनी तेजी से विकास की ओर अग्रसर है। वहीं दूसरी ओर मुस्लिम समाज ढलान की ओर है। इसका एक ही कारण है, कि लोग इस्लाम के बताए रास्ते को छोड़ चुके हैं। आज देश में शांति और सद्भाव का माहौल बनाने की जरूरत है।

सैयद सलमान नदवी ने कहा कि कुरान-ए-पाक और अंतिम पैगम्बर जनाब मोहम्मद सल्लाहो अलैहि वसल्लम का भी यही संदेश है कि आपस में एक हो जाओ और एकता में ही लोगों की भलाई है। आज कुछ लोगों एक साजिश के तहत मुल्क में हिन्दू मुस्लिमों के बीच नफरत की दीवार खड़ा करना खड़ा चाहते हैं।

उन्होंने खलीफाबाग शाह मार्केट की शाही मस्जिद में तकरीर करते हुए लोगों में यह संदेश दिया कि सबको एक मालिक अल्लाह, ईश्वर ने बनाया है और हम तमाम इंसानों को उसी की इबादत और बंदगी करनी है और उसके द्वारा भेजे गए रसूलों की पैरवी पूरी जिंदगी करते रहना है।

उन्होंने कहा कि सारे इंसान एक ही मां-बाप की संतान है। इसलिए हर धर्म के लोग आपस में एक परिवार की तरह है। देश और दुनिया से नफरत को खत्म करने के लिए एकजुटता के साथ काम करने की आवश्यकता है। हर तरह की फिरका परस्ती, झगड़े और नफरत के हर रास्ते को छोड़कर प्रेम, सद्भावना और मोहब्बत के रास्ते चलने की जरूरत है और सही मायने में यही देश की शक्ति है और पूरे विश्व को शांति मिलने का रास्ता व पैगाम भी है। उन्होंने अपनी तकरीर में कहा कि जो लोग नफरत फैलाने का काम कर रहे हैं वह समाज के और देश के दुश्मन हैं।

सैयद सलमान नदवी ने मुसलमानों से अनुरोध किया है कि आज जरूरत है कि हम सच्चाई का, सदाकत का इंसाफ का और लोगों की भलाई का काम करने के लिए आगे बढ़ चढ़कर हिस्सा लें और पूरी मानवता में किस तरह शांति का पैगाम आम हो लोगों की भलाई के लिए हाथ बढ़ाया जाए इसके लिए पूरी मिल्लत को काम करने की आवश्यकता है। मालूम हो कि सैयद सलमान नदवी अपने तीन दिवसीय दौरे पर भागलपुर स्थित प्रसिद्ध खानकाह-ए-पीर दमडिया आए हुए हैं।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)