May 11, 2021

Desh Pran

Hindi Daily

मूडीज ने चालू वित्‍त वर्ष में वृद्धि‍ दर का अनुमान बढ़ाकर किया -10.6 फीसदी

1 min read

वित्त वर्ष 2020-21 में जीडीपी ग्रोथ -10.6 फीसदी का अनुमान जताया
रेटिंग एजेंसी ने पहले -11.5 फीसदी विकास दर का जताया था अनुमान

नई दिल्‍ली : रेटिंग एजेंसी मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस ने वित्त वर्ष 2020-21 के लिए भारत के वृद्धि दर अनुमान को बढ़ाकर -10.6 फीसदी कर दिया है, जबकि उसके पूर्वानुमान के अनुसार ये आंकड़ा -11.5 फीसदी था। मूडीज ने कहा कि हालिया प्रोत्साहन पैकेज में विनिर्माण और रोजगार सृजन को प्राथमिकता देने और दीर्घकालिक वृद्धि पर फोकस रहने की वजह से ये अनुमान बढ़ाया गया है।

मूडीज ने गुरुवार को जारी अपने ताजा अनुमान में कहा कि भारत सरकार द्वारा हाल ही में घोषित प्रोत्साहन पैकेज में विनिर्माण और रोजगार सृजन पर विशेष ध्यान दिया गया है, जिसमें दीर्घावधि की वृद्धि पर फोकस है। ज्ञात हो कि केंद्र सरकार ने पिछले हफ्ते 2.7 लाख करोड़ रुपये के वित्तीय पैकेज का ऐलान किया था।

रेटिंग एजेंसी ने कहा कि ताजा उपायों का मकसद भारत के विनिर्माण क्षेत्र की प्रतिस्पर्धात्मकता को बढ़ाना और रोजगार का सृजन करना है। साथ ही बुनियादी ढांचे में निवेश, ऋण उपलब्धता और तनावग्रस्त क्षेत्रों की मदद पर भी ध्यान केंद्रित किया गया है। मूडीज ने कहा कि इन उपायों का वृद्धि दर के पूर्वानुमानों पर सकारात्मक असर पड़ा है।

2021-22 में 10.8 फीसदी वृद्धि का अनुमान

मूडीज ने कहा कि  ‘हमने वित्त वर्ष 2020-2021 के लिए अपने वास्तविक, महंगाई समायोजित जीडीपी पूर्वानुमान को संशोधित कर -11.5 फीसदी से घटाकर -10.6 फीसदी कर दिया है।’ मूडीज के मुताबिक अगले वित्त वर्ष 2021-22 के लिए वृद्धि का अनुमान 10.8 फीसदी है, जबकि पहले इसके 10.6 फीसदी रहने का अनुमान जताया गया था।

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)