Sun. Aug 18th, 2019

मोदी ने कहा- कांग्रेस नेता कितने भी हवन कर लें, भगवा में आतंकवाद के दाग लगाने के पाप से नहीं बच पायेंगे कांग्रेसी

1 min read

13 मई, 2019

लखनऊ/भोपाल: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मध्यप्रदेश और उत्तरप्रदेश की रैलियों में कांग्रेस और सपा-बसपा गठबंधन पर निशाना साधा। उन्होंने खंडवा में कहा कि कांग्रेस नेता कितने भी हवन करें और जनेऊ दिखाएं। यहां तक की पुलिस को भी भगवा ड्रेस सिलवा दें, लेकिन भगवा में जो आतंकवाद का दाग लगाने की उन्होंने साजिश की थी। उस पाप से कांग्रेस और महामिलावटी कभी नहीं बच पाएंगे। मोदी ने कहा कि मायावती को बेटियों की इतनी ही चिंता है तो वे अलवर कांड के बाद राजस्थान सरकार से समर्थन वापस लें।

मोदी ने कहा, ‘पहले पाकिस्तान में पलने वाले आतंकी हमला करते थे तो निर्दोषों को जेल में ढूंस दिया जाता था। उन्होंने हिंदू आतंकवाद का दाग लगाकर महान परंपरा का अपमान किया। वोट बैंक की राजनीति के लिए गंभीर साजिश रची गई, लेकिन अब जवाब मिल रहा है। कांग्रेस ने खंडवा के सपूत किशोर कुमार के गानों पर आपातकाल के दौरान रोक लगाई थी। आज आप उनसे इस बारे में पूछेंगे तो कहेंगे कि हुआ तो हुआ। गैस कांड के आरोपी को सरकारी विमान से भगाने पर इस पर भी यहीं कहेंगे। उन्होंने 1984 के दंगों के गुनहगार को पंजाब का प्रभारी बनाया, लेकिन लोगों ने विरोध किया तो अब मध्यप्रदेश का मुख्यमंत्री बना दिया।’

सेना आतंकी मारने से पहले किसी से इजाजत नहीं लेती

कुशीनगर में कहा कि 5 चरण के मतदान में विरोधी चारों खाने चित हो गए, इसलिए बौखलाए हैं। उन्हें समझ नहीं आ रहा कि चौकीदार पर लोगों का इतना प्यार क्यों उमड़ रहा है। कुछ लोगों को आपत्ति है कि आज चुनाव के वक्त ही कश्मीर में आतंकियों को क्यों मारा? अगर आतंकी बंदूक लेकर सामने खड़ा हो तो क्या हमारे जवान चुनाव आयोग से इजाजत लेंगे? आतंक के खिलाफ जो लड़ाई हम लड़ रहे हैं उसके लिए देश कमल और मोदी को वोट दे रहा है। हम जब से कश्मीर में आए, हर तीसरे दिन सफाई होती है।

दुष्कर्म की घटना पर बहनजी घड़ियाली आंसू बहा रहीं

मोदी ने कहा, ‘सपा, बसपा और कांग्रेस की महामिलावट कैसे काम करती है। इसका उदाहरण राजस्थान है। एक दलित बेटी के साथ अलवर में सामूहिक दुष्कर्म हुआ। वहां कांग्रेस की सरकार बसपा के समर्थन से चल रही है। कांग्रेस और बसपा दलित बेटी के साथ हुए अपराध को दबाने में जुटी हुई हैं। न्याय, न्याय रटने वाले नामदार के मुंह पर बलात्कारियों ने ताला लगा दिया। बहनजी (मायावती) आपके साथ गेस्ट हाउस में जो हुआ था, उससे सारे देश की बहनों और बेटियों को पीड़ा हुई थी। आज बेटियां बहनजी से पूछ रही हैं कि अगर आप बेटियों की सुरक्षा के प्रति इतनी ही ईमानदार हैं तो राजस्थान में सरकार से समर्थन वापस लीजिए। लेकिन वे सिर्फ बयानबाजी कर घड़ियाली आंसू बहा रहीं।’

पीएम मोदी ने कहा

  • आतंकियों को मारने पर कुछ लोग परेशान, क्या चुनाव आयोग से इजाजत लेनी होगी
  • राजस्थान सरकार ने अलवर में दलित लड़की से दुष्कर्म की घटना छिपाई
  •  ‘अगर मायावती को दलित बेटियों की चिंता है तो समर्थन वापस लें’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)