Sun. Jul 5th, 2020

प्रतिपक्ष के नेता हेमंत सोरेन ने मुख्यमंत्री को भेजा लीगल नोटिस, कहा- प्रमाणित करें, अन्यथा माफी मांगे रघुवर दास

1 min read

रांची : प्रतिपक्ष के नेता और झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने मुख्यमंत्री रघुवर दास को लीगल नोटिस भेजा है। लीगल नोटिस के जरिये उन्होंने सीएम से कहा है कि जो भी आरोप लगाये गये हैं, उनकी सत्यता प्रमाणित करें, अन्यथा सार्वजनिक तौर पर वह माफी मांगें।

हेमंत सोरेन ने रविवार को इस संबंध में मीडियाकर्मियों से बातचीत की। उन्होंने कहा कि रघुवर दास ने यह आरोप लगाया है कि झामुमो के सोरेन परिवार ने 500 एकड़ जमीन हड़प ली है। इसके बाद उन्हें कानूनी रास्ता अख्तियार करने के लिए बाध्य होना पड़ा है।

हेमंत सोरेन ने कहा कि रघुवर दास सरकार ने सीएनटी-एसपीटी एक्ट में उल्लंघन कर और सरकारी जमीन पर कब्जा कराने के मामले को लेकर एसआइटी का गठन किया था। एसआइटी की रिपोर्ट कब की आ चुकी है। इसके बावजूद सीएम हमेशा उनके ऊपर जमीन की हेराफेरी का आरोप लगाकर उनकी प्रतिष्ठा को धुमिल करने का प्रयास करते रहते हैं।

हेमंत ने कहा कि सरकार के पास हिम्मत है तो इस मामले की सीबीआई जांच कराये। जो भी दोषी हों, उनके खिलाफ सरकार कार्रवाई करे। इसके बावजूद सीएम रघुवर दास कार्रवाई नहीं करके आरोप लगाते रहते हैं। इसके चलते उन्होंने रघुवर दास के खिलाफ कानूनी रास्ता अपनाया है।

हेमंत ने कहा कि पिछले शनिवार को ही वह रघुवर दास को लीगल नोटिस भेज चुके हैं। इसमें कहा गया है कि सात दिनों के भीतर वह सार्वजनिक तौर पर माफी मांगें, नहीं तो वह कानूनी कार्रवाई की अग्रेतर प्रक्रिया अपनायेंगे।

हेमंत ने कहा कि झारखंड उच्च न्यायालय में सीएम श्री दास के साले के खिलाफ भी याचिका दायर की गयी है। इसमें याचिकाकर्ता मनीष दास ने सीएम के साले पर मानसिक और शारीरिक यातना देकर जमीन पर जबरदस्ती कब्जे का आरोप लगाया है।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)