Fri. Jan 15th, 2021

पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को मिलेगी कोविड-19 वैक्सीन : उपायुक्त

1 min read

मेदिनीनगर : लोग डरें नही, कोविड टेस्ट करवाएं। खुद को और अपने परिवार को कोविड से बचाएं। उक्त बातें उपायुक्त शशि रंजन ने कही। वे सोमवार को जिला टास्क फोर्स की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

जिला टास्क फोर्स (स्वास्थ्य) की बैठक के दौरान जिले में कोविड-19 के रोकथाम के लिए हो रहे कार्यों और मौजूद स्वास्थ्य इंफ्रास्ट्रक्चर की समीक्षा की गई। बैठक में कोविड-19 को लेकर जिले में की जाने वाली तैयारियों की भी समीक्षा हुई।

उपायुक्त शशि रंजन ने कहा कि कोविड-19 के वैक्सीन आने पर जिले में कोल्ड चैन मैनेजमेंट के अधिकतम कैपेसिटी को यूटिलाइज करना है। उन्होंने पलामू वासियों से अपील की कि वह डरे नहीं हर हाल में टेस्ट करवाएं। कोविड-19 के रोकथाम में जिला प्रशासन का सहयोग करें। उन्होंने बताया कि लोगों को जागरूक करने हेतु जिले में कोविड-19 उचित व्यवहार कैंपेन चलाया जा रहा है।

उपायुक्त ने मेदनी राय मेडिकल कॉलेज-सह- हॉस्पिटल में पढ़ रहे विद्यार्थियों तथा वहां के शिक्षकों तथा एएनएम स्कूल के सदस्यों को भी पहले चरण में वैक्सीन दिलवाने की बात कही।

बैठक में मौजूद डीपीएम (स्वास्थ्य) दीपक कुमार ने बताया कि सरकार के निर्देशानुसार कोविड-19 वैक्सीन के पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन दी जाएगी। इसके लिए सरकार के आदेश पर स्वास्थ्य कर्मियों का डेटाबेस तैयार किया जा रहा है। डेटाबेस में सेविका तथा सहियाएं भी शामिल रहेंगी। उन्होंने बताया कि जिले में अभी 14 कोल्ड चैन मैनेजमेंट सिस्टम मौजूद हैं जहां पर एक बार में 50000 से अधिक वैक्सीन का स्टोरेज किया जा सकता है।

सिविल सर्जन डॉ जॉन एफ कैनेडी ने बताया कि निजी अस्पतालों तथा क्लीनिक में भी कार्य करने वाले स्वास्थ्य कर्मियों की सूची उपलब्ध कराने के लिए कहा गया है। बैठक में उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी श्री शशि रंजन के अलावा सहायक समाहर्ता शाह प्रशिक्षु आईएएस श्री दिलीप प्रताप सिंह शेखावत, उप विकास आयुक्त श्री शेखर जमुआर, सिविल सर्जन डॉक्टर जॉन एफ केनेडी, डीएसपी सुजीत कुमार सिंह, विभिन्न सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी सहित अन्य मौजूद थे।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)