Sat. Oct 31st, 2020

जेवीएम की नई कार्यसमिति घोषित, प्रदीप यादव हटाए गए- अभय कुमार सिंह को पार्टी का प्रधान महासचिव बनाया गया

रांची : भाजपा में बाबूलाल मरांडी के शामिल होने और उनकी पार्टी के विलय की अटकलों के बीच झारखंड विकास मोर्चा ने शुक्रवार को नई कार्यसमिति की घोषणा कर दी है। बाबूलाल मरांडी की अध्यक्षता वाली कार्यसमिति में 151 लोगों को शामिल किया गया है। अभय कुमार सिंह को पार्टी का प्रधान महासचिव बनाया गया है। इससे पहले विधायक प्रदीप यादव इस पद की जिम्मेदारी संभाल रहे थे। इसके साथ ही पिछली कार्यकारिणी में केंद्रीय महासचिव की जिम्मेदारी संभाल रहे बंधु तिर्की को कार्यसमिति का सदस्य बनाया गया है।

अभय कुमार सिंह ने प्रेसवार्ता कर नई कार्यसमिति की घोषणा की। इस दौरान उनके साथ विनोद शर्मा और पूर्व मंत्री रामचंद्र केसरी भी मौजूद थे। मालूम हो कि बीते पांच जनवरी को जेवीएम कार्यसमिति को भंग कर दी गई थी। इसके बाद नई कार्यसमिति के गठन के लिए बाबूलाल मरांडी को अधिकृत किया गया था।
इस बीच नई कार्यसमिति की घोषणा के कई मायने निकाले जा रहे हैं। माना जा रहा है कि इसमें उन लोगों को शामिल किया गया है, जो बाबूलाल मरांडी के किसी भी फैसले अपनी असहमति नही जतायेंगे।

हालांकि नए प्रधान महासचिव अभय कुमार सिंह ने कहा कि नई कार्यकारिणी पूरी मजबूती से सांगठनिक मजबूती की दिशा में और जनता के हितों में काम करेगी। उन्होंने कहा कि पूर्ण विश्वास है कि हमारा संगठन मजबूत होगा, सुदृढ़ होगा। जनता के हित में हम निरंतर आगे बढ़ेंगे। बहुत जल्दी कई कार्यक्रम भी तय करेंगे। संगठन में ग्रास रूट पर काम करते रहे कार्यकताअरं को महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी गई है।

उन्होंने बताया कि पूर्व मंत्री रामचंद्र केसरी, विनोद शर्मा, डॉ आश्रिता कुजूर, श्रीराम दूबे, अशोक वर्मा, आरएन सहाय,शोभा यादव और बटेश्वर मेहता को केंद्रीय उपाध्यक्ष बनाया गया है। रमेश राही, सुरेश साव, सरोज सिंह, राजीव रंजन मिश्रा उफ चुन्नू ,संतोष कुमार, चंद्रनाथ भाई पटेल को केंद्रीय महासचिव बनाया गया है। इनके अलावा सभी जिला अध्यक्षों और पार्टी की सहयोगी संगठनों की जिम्मेदारी तय की गई है।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)