Wed. Feb 19th, 2020

झाविमो केन्द्रीय कार्यसमिति ने भाजपा में विलय के प्रस्ताव को दी मंजूरी – 17 फरवरी को जेवीएम का भाजपा में होगा विलय

?

धुर्वा के जगन्नाथपुर मैदान में होगा भव्य मिलन समारोह
अमित शाह, जेपी नड्डा व ओम प्रकाश माथुर आयेंगे

रांची : झाविमो ने भाजपा में विलय का अपना पहला तकनीकी पड़ाव मंगलवार को पार कर लिया। मंगलवार को झारखंड विकास मोर्चा केन्द्रीय कार्यसमिति की बैठक में झाविमो का भाजपा में विलय का प्रस्ताव भारी मतों से पास हो गया। राजधानी रांची के बोड़ेया रोड स्थित आशीर्वाद बैंक्वेट सभागार में झाविमो केन्द्रीय कार्यसमिति की बैठक में चार प्रस्तावों को मिली हरी झंडी।

बैठक की जानकारी देते हुए झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी ने कहा कि विधायक बंधु तिर्की और प्रदीप यादव के झाविमो से निष्कासन संबंधी प्रस्ताव को भी केन्द्रीय समिति घ्वनि मत से पारित किया। इसके अलावा झाविमो के परिसंपत्तियों के निष्पादन संबंधी प्रस्ताव को भी स्वीकृति प्रदान की गयी।

हमेशा पार्टी कार्यकर्ताओं की भावना के साथ रहा : बाबूलाल

बाबूलाल ने कहा कि कार्यकर्ता और जनता के निर्णय का सम्मान करते हुए विलय का निर्णय लिया गया। 17 फरवरी को झाविमो का भाजपा में विलय एक मिलन समारोह के रूप में होगा। राजधानी रांची के जगन्नाथपुर मैदान धुर्वा में एक बड़ी सभा होगी। मिलन समारोह में गृहमंत्री अमित शाह, राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम माथुर समेत केंद्रीय नेतागण मौजूद रहेंगे। मरांडी ने कहा कि लगभग 14 वर्षों के बाद मेरी अपने घर में वापसी हो रही है। मैंने कार्यकर्ताओं की भावनाओं का सम्मान करते हुए काफी मंथन के बाद यह कदम उठाया है। झारखंड और जनहित में यह कदम उठाया हूं।

विलय की तकनीकी बाधा दूर

कार्यसमिति की बैठक में दोनों विधायक प्रदीप यादव और बंधु तिर्की के निष्कासन का प्रस्ताव पारित होने के बाद झाविमो का भाजपा में विलय की तकनीकी बाधा दूर हो गयी। झाविमो के दोनों विधायक विलय के विरोधी थे।

10 फरवरी को राजनीतिक प्रस्तावों को दिया गया अंतिम रूप

10 फरवरी की शाम पार्टी के प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक डिबडीह स्थित झाविमो मुख्यालय में हुई थी। इसमें पार्टी प्रमुख बाबूलाल मरांडी के अलावा प्रधान महासचिव अभय सिंह, उपाध्यक्ष विनोद शर्मा आदि मौजूद थे। पार्टी पदाधिकारियों की बैठक में राजनीतिक प्रस्तावों को अंतिम रूप दिया गया। सोमवार को भी बाबूलाल मरांडी ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा था कि वह अब तक पार्टी कार्यकर्ताओं की भावनाओं के साथ रहे हैं और आगे भी रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)