Mon. Mar 8th, 2021

Desh Pran

Hindi Daily

आईएसएल-7 : बेंगलुरू के लिए डू और डाई, गोवा को 3 अंक से कम कुछ मंजूर नहीं

1 min read

गोवा : हीरो इंडियन सुपर (आईएसएल) के सातवें सीजन में पूर्व चैम्पियन बेंगलुरू एफसी के पास अब लीग चरण में दो ही मैच बचे हैं और ये दोनों मैच उसके लिए डू और डाई जैसा होने वाला है। टीम टॉप-4 में पहुंचने से अभी पांच अंक दूर है। बेंगलुरू को प्लेआफ में पहुंचने के लिए बाकी बचे दोनों मैच जीतने होंगे और साथ ही उसे ये भी देखना होगा कि प्लेआफ की अन्य दावेदार टीमें अंक गंवाए।

बेंगलुरू के अंतरिम कोच नौशाद मूसा ने हालांकि जोर देकर कहा है कि उनकी टीम इसे लेकर खुद पर दबाव नहीं बना रही है और वह रविवार को फातोर्दा में जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में एफसी गोवा के खिलाफ होने वाले मुकाबले को लेकर तैयार है।

मूसा ने कहा, “हम ज्यादा दबाव नहीं ले रहे हैं (टॉप-4 में क्वालीफाई करने को लेकर)। एक जीत हमें इसके करीब लेकर जाएगी और हमारे लिए प्लेआफ में पहुंचने का मौका बनाएगी। यह नहीं भूलना चाहिए कि सिर्फ एक जीत के लिए बेताब होना हमारी योजना को तबाह कर देगा। हम शांत और केंद्रित रहना चाहते हैं और बस अपना खेल खेलना चाहते हैं।”

बेंगलुरू के लिए गोवा से भिड़ना आसान नहीं होगा। गोवा ने अपने 26 गोलों में से 16 गोल दूसरे हाफ में किए हैं। गोवा ने साथ ही अंतिम 15 मिनट में सबसे ज्यादा 10 गोल किए हैं। मूसा ने कहा, वे गेंद को अच्छी तरह से रखते हैं और उनका बॉल पजेशन अच्छा हैं। यह हमारे लिए आसान नहीं होगा। वे देर से गोल कर रहे हैं जिसे लेकर हमें सावधान रहना होगा।”

दूसरी तरफ, एफसी गोवा ने लगातार छह ड्रॉ खेलने के बाद अपने पिछले मैच में ओडिशा के खिलाफ जीत हासिल की है। गोवा प्लेआफ की रेस में बनी हुई है। गोवा के हैदराबाद और नॉर्थईस्ट युनाइटेड से जितने ही अंक है और तीनों के अभी दो-दो मैच बचे हैं।

गोवा हालांकि सात मैचों में क्लीन शीट हासिल नहीं कर पाई है और बेंगलुरू के खिलाफ हार से वह प्लेआफ की रेस से बाहर हो सकती है। गोवा के कोच जुआन फेरांडो ने कहा, यह हमारे और उनके लिए एक मुश्किल मैच होगा। हमारे लिए तीन अंक लेना महत्वपूर्ण है।

तीन अंक के साथ हमारे पास प्लेआफ में पहुंचने की अधिक संभावना होगी और फिर बेंगलुरू को अंतिम दो मैचों से छह अंक लेने की जरूरत होगी। यह एक अच्छा मैच होगा क्योंकि दोनों की मानसिकता एक जैसी है।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)