Thu. Aug 13th, 2020

भारत-चीन सीमा विवाद पर ट्रंप बोले-अमेरिका मध्यस्थता को तैयार

1 min read

नई दिल्ली : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत और चीन के सीमा विवाद में मध्यस्तथा की पेशकश की है। राष्ट्रपति ट्रम्प ने बुधवार को एक ट्वीट में कहा,  ‘हमने भारत और चीन को सूचित किया है कि अमेरिका मौजूदा सीमा विवाद के संबंध में मध्यस्थता के लिए तैयार और इच्छुक है।’ अमेरिकी राष्ट्रपति ने भारत और पाकिस्तान के बीच विवाद के बारे में भी कई बार मध्यस्थता की पेशकश की थी जिसे भारत ने अस्वीकार कर दिया था।

हाल के दिनों में लद्दाख और सिक्किम में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर भारत और चीन के बीच तनातनी की स्थिति पैदा हुई है। लद्दाख में एलएसी को लेकर विवाद दोनों पक्षों के बीच स्थानीय स्तर पर हुई सैन्य बैठकों का कोई नतीजा नहीं निकला है। सूत्रों के अनुसार चीनी सैनिकों ने एलएसी के भारतीय इलाके में घुसपैठ कर वहां टेंट लगा दिए हैं जिसका भारतीय सेना विरोध कर रही है। दोनों पक्ष इस क्षेत्र में अपनी सैन्य मौजूदगी बढ़ा रहे हैं।

इस बीच नई दिल्ली में चीन के राजदूत सन विडोंग ने कहा कि भारत और चीन एक दूसरे के लिए खतरा नहीं है, बल्कि कोविड के खिलाफ साझा सहयोग से नए अवसर पैदा हुए हैं। उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि दोनों देशों को एक दूसरे के विकास को सही नजरिये से देखना चाहिए। उन्हें अपने मतभेदों को व्यापक द्विपक्षीय सहयोग में बाधा नहीं बनने देना चाहिए। भारत और चीन एक दूसरे के लिए अवसर पैदा करते हैं तथा वह एक-दूसरे के लिए खतरा नहीं है।

चीनी राजदूत ने कहा कि दोनों देशों के लोगों को भारत-चीन संबंधों के महत्व को समझना चाहिए तथा राष्ट्रपति शी जिंगपिंग और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बीच कायम एक राय को मजबूत करने की कोशिश करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि दोनों देशों को आपस में रणनीतिक विश्वास बढ़ाना चाहिए। उन्होंने मतभेदों को हल करने के लिए संपर्क और संवाद के जरिए हल करने पर भी जोर दिया।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)