Wed. Oct 28th, 2020

मुरारी ज्वेलर्स लूटकांड मामले में चार गिरफ्तार

1 min read
सोनार की टीम ने ही सोना दुकान में करायी थी चोरी

मेदिनीनगर : पलामू के नये पुलिस कप्तान संजीव कुमार के नेतृत्व पलामूवासियों के काम आया है। एसपी के निर्देश पर गठित एसआईटी ने विगत 20 सितंबर को शहर के बीचोंबीच भीड़भाड़वाले इलाके पंचमुहान स्थित मुरारी ज्वेलर्स में डकैती की हुई घटना में बड़ी सफलता हासिल की है।

मात्र नौ दिनों के अंदर एसआईटी ने इसका उद्भेदन करते हुए चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है, जिसमें पलामू के साथ-साथ बिहार के अपराधियों का भी हाथ है। सबसे गौर करने लायक बात यह है कि इस सोने की दुकान में सोनारों की लंबी टीम ने ही घटना को अंजाम दिया है।

पलामू के डीएसपी संदीप गुप्ता ने बड़े ही संजीदगी से काफी कम समय में पूरे मामले का उद्भेदन कर पलामू पुलिस पर लगे एक बड़े दाग को धोने का काम किया है। पुलिस ने लुटेरों से लूट के सोने-चांदी का सामान भी बरामद कर लिया है।

प्रेसवार्ता में पलामू एसपी संजीव कुमार ने बताया कि गिरफ्तार लुटरों ने लूट के सामान में से अपने हिस्से का सामान औरंगाबाद व रांची में चांदी बेच दिया है। इनलोगों के पास से जो रुपया बरामद किया गया है वह उसी हिस्सा का है। उन्होंने बताया कि पकड़े गये अपराधी में एक कोरोना पॉजिटिव पाया गया है, जबकि बरामद पल्सर गाड़ी चोरी की है।

इस कांड को अंजाम देने के लिये अखबार विक्रेता राजेंद्र सोनी रेकी कर रहा था। एसपी ने बताया कि इन लोगों का प्लान था कि लूट व चोरी के बाद जो भी पैसा आयेगा, उससे बाहर में जाकर जेवर की दुकान खोलेंगे। उन्होंने खुलासा किया कि इस प्लानिंग में कुल नौ लोग शामिल थे, इसमें से चार की गिरफ्तारी हो गयी है। अन्य पांच लोगों की गिरफ्तारी के लिये छापामारी जारी है।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)