Sun. Jan 24th, 2021

लतरातु नहर के निर्माण से दर्जनों गांवों के लोगों को मिल रही है सिंचाई सुविधा

खूंटी : लतरातु नहर सिंचाई के बन जाने सें आसपास के दर्जनों गांवों के किसानों को भरपूर सिंचाई सुविधा मिल रही है। इससे किसान काफी खश हैं। लतरातु नहर का प्रयोग खेती के लिए पानी को एक स्थान से दूसरे स्थान तक पहुंचाने में किया जाता है।

लतरातु नहर लतरातु बांध से निकलती हैए जिसकी लम्बाई लगभग 41 किमी है। यह दो भागों में बंटी हुई है। दायीं मुख्य नहर एवं बायीं मुख्य नहर। इन दोनों मुख्य नहरों से लघु नहरए डिस्ट्रब्यूट्री या आउटलेट द्वारा पानी खेतों के लिए निकाला जाता है।

लतरातु नहर से लगभग 3800 हेक्टेयर भूमि सिंचाई होती है। इसके अन्तर्गत 40 से 50 गांवों के किसानों को प्रर्याप्त मात्रा में पानी उपलब्ध कराया जाता हैए जिसका उपयोग किसान खेती एवं अन्य जरूरतों के लिए करते है। नहर में पानी को भी ऐसी गति से चलाया जाता है ताकि उससे नहर में न तो कटाव हो और न तलहट ही जमा हो। जहां भी आवश्यकता होती है प्रपात बनाए जाते हैं, ताकि नहर की तली की ढाल निर्धारित दशा में रखी जा सके।

नहर के दोनों ओर सर्विस रोड बनाए गए हैं, जिसका उपयोग आवागमन एवं नहर की देखरेख के लिए किया जाता है। लतरातु नहर के निर्माण हो जाने से लतरातु, बलांदू, सरसा, नवाटोली, दरन्दा, कसिरा, बमरजा आदि गांव के किसान लाभान्वित हो रहे हैं। लतरातु दायीं एवं बायीं मुख्य नहर की पक्कीकरण किया गया है। इससे की पानी की अनावश्यक बर्बादी नहीं होती है और लंबी दूरी तक पानी को पहुंचाया जाता है।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)