व्यवसाय

विश्व के दस सबसे महंगे स्थानों में दिल्ली का दिल कनॉट प्लेस

11.07.2019

नयी दिल्ली : राष्ट्रीय राजधानी का दिल कनॉट प्लेस (सीपी) वैश्विक स्तर पर शीर्ष 10 सबसे महंगे कार्यालय बाजारों में से एक है। वैश्विक स्तर पर कार्यालयों की किराया लागत की निगरानी करने वाली अमेरिकन कंपनी ने अपनी रिपोर्ट में यह आंकड़ा जारी किया है।

रियल एस्टेट परामर्श फर्म सीबीआरई ने बुधवार को अपनी वार्षिक सर्वेक्षण रिपोर्ट में कहा कि दिल्ली का कनॉट प्लेस किराये के मामले में विश्वभर में नौवां सबसे महंगा स्थान है। रिपोर्ट के अनुसार, नई दिल्ली के सीपी में कार्यालय अधिभोग की लागत 143.97 डॉलर प्रति वर्ग फुट है।

रिपोर्ट के मुताबिक मुंबई का बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स (बीकेसी) और नरीमन पॉइंट सेंट्रल बिजनेस डिस्ट्रक्टि क्रमश: 27 वें और 40 वें स्थान पर है। बीकेसी का वर्तमान वार्षिक मुख्य किराया 90.67 डॉलर प्रति वर्ग फुट और नरीमन प्वाइंट का अधिभोग मूल्य 68.38 डॉलर प्रति वर्ग फुट है।

उल्लेखनीय है कि सीबीआरई समूह एक अमेरिकी वाणिज्यिक अचल संपत्ति सेवाओं और निवेश फर्म है । यह दुनिया में अपनी तरह की सबसे बड़ी कंपनी है। सीबीआरई सेवाओं, लेनदेन और परियोजना प्रबंधन सहित एकीकृत सेवाओं की एक विस्तृत श्रृंखला प्रदान करता है।

विश्व के दस सबसे महंगे बाजार
1. हांगकांग (सेंट्रल),हांगकांग 322.00 डॉलर प्रति वर्ग फुट
2. लंदन (वेस्ट इंड), यूनाइटेड किंगडम 222.70 डॉलर प्रति वर्ग फुट
3. हांगकांग(कोलून) हांगकांग 208.67 डॉलर प्रति वर्ग फुट
4. न्यूयॉर्क (मिडटाउन-मैनहॉटन), अमेरिका 196.89 डॉलर प्रति वर्ग फुट
5. बीजिंग(फिनायंस स्ट्रीट)चीन 187.77 डॉलर प्रति वर्ग फुट
6. बीजिंग (सीबीडी)चीन 177.05 डॉलर प्रति वर्ग फुट
7. न्यूयॉर्क (मिडटाउन-साउथ मैनहॉटन) अमेरिका 169.86 डॉलर प्रति वर्ग फुट
8. टोक्यो (मरुनौची / ओटेमाची) जपान 167.82 डॉलर प्रति वर्ग फुट
9. नयी दिल्ली (कनॉट प्लेस-सीबीडी) भारत 143.97 डॉलर प्रति वर्ग फुट
10. लंदन (सीटी) यूनाइटेड किंगडम 139.75 डॉलर प्रति वर्ग फुट