Mon. Oct 26th, 2020

दाउद का विश्वसनीय सहयोगी हिरासत में, संभालता था सारे अवैध धंधे

19 अगस्त, 2018

नयी दिल्ली/लंदन: वैश्विक आतंकवादी घोषित एवं भगोड़े डान दाउद इब्राहीम के विश्वसनीय सहयोगी जाबिर मोती को ब्रिटेन की पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

मोती को हिरासत में लिए जाने की घटना को भारतीय सुरक्षा एजेंसियों की एक बड़ी सफलता के रूप में देखा जा रहा है। भारत ने पूर्व में मोती को गिरफ्तार किये जाने का अनुरोध किया था।

प्राप्त रिपोर्टोँ के मुताबिक पाकिस्तानी नागरिक एवं दाउद का वित्त प्रबंधन संभालने वाले मोती को चेरिंग क्रास पुलिस के अधिकारियों ने लंदन में हिरासत में लिया है।

मोती के बारे में कहा जाता है कि वह दाउद और उसकी पत्नी महजबीन का काफी करीबी है। उसके पास पाकिस्तानी पासपोर्ट है, जिसमें उसे कराची का नागरिक बताया गया है। भारतीय सुरक्षा एजेंसियां का मानना है कि दाउद को भी अक्सर कराची के आसपास देखा गया है।

पाकिस्तानी नागरिक और 10 साल के वीजा पर ब्रिटेन में रह रहे जबीर मोती और दाऊदी की पत्नी महजबीन, बेटी महरीन और दामाद जुनैद (पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर जावेद मियांदाद का बेटा) के बीच वित्तीय लेनदेन की जांच के बाद जबीर को हिरासत में लिया गया है। दाऊद की सबसे छोटी बेटी की अभी शादी नहीं हुई है।

जबीर पाकिस्तान, मिडल ईस्ट, यूके और यूरोप, अफ्रीका और दक्षिण पूर्व एशिया के देशों में दाऊद के काम को देखता है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इन देशों में व्यवसायों से होने वाली कमाई और अन्य गैरनकानूनी गतिविधियों जैसे अवैध हथियार बेचना, नशीले पदार्थों का व्यापार, रियल एस्टेट व्यापार, उगाही से होने वाली कमाई का इस्तेमाल भारत विरोधी अभियानों को अंजाम देने के लिए आतंकवादियों के वित्तपोषण में किया जाता है।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)