Tue. Jan 26th, 2021

पांचवी कक्षा की छात्रा की जबरन रचाई जा रही थी शादी, सीडब्ल्यूसी ने मारा छापा

1 min read

रामगढ़ : जिले में एक बार फिर एक नाबालिक लड़की कुरीतियों का शिकार होने से बच गई। बाल विवाह जैसी कुरीति के खिलाफ बाल कल्याण समिति, चाइल्डलाइन और रामगढ़ थाना पुलिस ने छापेमारी की। बुधवार को नाबालिक लड़की और उसके परिजनों को पकड़कर रामगढ़ थाना ले आया गया है।

लड़की मांडू प्रखंड की जोड़ा करम मल्हार टोला की रहने वाली है। वह पांचवी कक्षा की छात्रा है। बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष मुन्ना पांडे ने इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए बताया कि किशोरी पुष्पा (12) की उसके पिता के द्वारा जबरन शादी रचाई जा रही थी।

चाइल्डलाइन के द्वारा बाल कल्याण समिति को इसकी सूचना दी गई। इसके बाद तत्काल रामगढ़ थाना पुलिस के सहयोग से बड़कागांव इलाके में छापेमारी की गई। वहां पता चला कि नाबालिक लड़की की शादी गिरिडीह जिले के एक नाबालिग युवक के साथ कराई जा रही थी। समिति ने तत्काल शादी को रुकवाया। साथ ही परिजनों को पकड़कर थाने ले आई। उन्होंने बताया कि नाबालिग छात्रा को चाइल्ड लाइन में आश्रय दिया गया है।

सात दिन पहले लड़की को उसके बड़े पिता ने ही भर दी थी मांग

बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष मुन्ना पांडे ने बताया कि सूचना के अनुसार नाबालिक लड़की के बड़े पिता के द्वारा जबरन 7 दिन पहले उसकी मांग भी भर दी गई थी। यह मामला जब समाज में उछला तो परिजनों को काफी शर्मिंदगी महसूस हुई। इसके बाद में लड़की के माता-पिता ने आनन-फानन में उसकी शादी रचाने का प्रयास किया। अब इस पूरे मामले की पुलिस जांच कर रही है।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)