Sun. Jan 17th, 2021

धनतेरस पर बाजार में उमड़ी भीड़, व्यापारियों को करोड़ों के व्यापार की है उम्मीद

रामगढ़ : व्यापारिक तौर पर रामगढ़ जिला सबसे बड़े बाजार के रूप में स्थापित है। धनतेरस के मौके पर गुरुवार को बाजार में लोगों की भीड़ भी उमड़ी है। कोरोना काल में लोगों की भीड़ से व्यापारियों को भी काफी उम्मीदें हैं। मंदी के इस दौर में भी करोड़ों का सामान रामगढ़ के बाजार में उतारा गया है।

व्यापारियों को उम्मीद है कि धनतेरस से लेकर दिवाली के दिन तक 48 घंटे में करोड़ों रुपए का व्यापार भी होगा। बाजार में सबसे अधिक सामग्री लोकल वस्तुओं की है। दीया से लेकर फर्नीचर तक लोकल कारीगरों के द्वारा बनाया हुआ बेचा जा रहा है।

यहां तक की धान की बालियां भी लोकल कारीगरों ने सजावट कर बाजार में रखा है। सबसे बड़ा बाजार सोना और चांदी का है। धनतेरस के मौके पर चांदी के सिक्के, प्लेट, कटोरी और सोने की ईंट तक भी बाजार में लाए गए हैं।

इसके अलावा बर्तन विक्रेताओं ने भी भारी मात्रा में सामान मंगा रखा है। पीतल और कांसे के बर्तन बाजार में उपलब्ध हैं। लोगों की भीड़ भी दुकान में दिख रही है। इन सबके अलावा सजावट के सामान पर भी व्यापारियों ने बड़ा पैसा खर्च किया है। तोरण से लेकर विद्युत उपकरण भी बाजार में दिखाई दे रहे हैं। बड़े व्यापारियों में एक्साइड एजेंसी, इलेक्ट्रॉनिक वर्ल्ड, रवि एजेंसी ने भी दीपावली के मौके पर आधुनिक इन्वर्टर, फ्रिज और वाद्य यंत्र की बिक्री पर जोर दिया है।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)