प्रदेश

कांग्रेस का हंगामा, राज्यसभा स्थगित

दोनों पक्षों के बीच समझौता होने के कारण सदन की कार्यवाही चार बज 20 मिनट पर दिनभर के लिए स्थगित कर दी गयी

11.07.2019

नयी दिल्ली : कर्नाटक के राजनीतिक घटनाक्रम को लेकर कांग्रेस के सदस्यों ने आज राज्यसभा में अभूतपूर्व हंगामा किया और घंटों तक लगातार नारेबाजी की जिसके कारण तीन बार के स्थगन के बाद सदन की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित कर दी गयी।

शून्यकाल और प्रश्नकाल में एक एक बार के स्थगन तथा भोजनावकाश के एक बार के स्थगन के बाद तीन बजे सदन की कार्यवाही शुरू हुई तो कांग्रेस के करीब 20 सदस्य सभापति के आसन के पास पहले की तरह आ गये और लगभग सवा घंटे तक लगातार जमकर नारेबाजी की लेकिन उप सभापति हरिवंश सदन चलाने पर अड़ गये।

शोर शराबे में भारतीय जनता पार्टी के सुरेश प्रभु, अन्नाद्रमुक के ए नवनीत कृष्णन, मनोनीत नरेंद्र जाधव और शिवसेना के अनिल देसाई बजट पर अपना वक्तव्य देते रहे लेकिन हंगामें के कारण कुछ सुनाई नहीं पडा। सदन की अराजक स्थिति को देखते हुए समाजवादी पार्टी के रामगोपाल यादव ने कहा कि किसी की कोई बात सुनाई नहीं पड़ रही है इसलिए उनके पार्टी के सदस्य सदन से बहिर्गमन कर रहे हैं। इसके बाद सपा के सदस्य सदन से बाहर निकल गये।

हरिवंश के सदन चलाने के कडे रुख को देखते हुए कांग्रेस के उप नेता आनंद शर्मा और जयराम रमेश ने सदन के नेता थावरचंद गहलोत और संसदीय कार्यमंत्री मुरलीधरण के साथ बातचीत कर सदन की कार्यवाही स्थगित कराने की कोशिश की लेकिन शुरू में उन्हें इसमें सफलता नहीं मिली। बाद में दोनों पक्षों के बीच समझौता होने के कारण सदन की कार्यवाही चार बज 20 मिनट पर दिनभर के लिए स्थगित कर दी गयी।