Sat. Mar 28th, 2020

राज्यसभा चुनाव में गड़बड़ी करने के आरोप में सीआईडी एडीजी अनुराग गुप्ता सस्पेंड

1 min read

रांची : अपराध अनुसंधान विभाग (सीआईडी) के एडीजी अनुराग गुप्ता को सस्पेंड कर दिया गया है। इस संबंध में शुक्रवार को गृह मंत्रालय का कार्यालय खुलते ही आदेश दे दिए गए। अनुराग गुप्ता 1990 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। इससे पहले गुरुवार की देर रात सीएम हेमंत सोरेन ने सस्पेंशन का आदेश दिया था। जिसकी औपचारिकता सुबह कार्यालय खुलने के बाद पूरी की गई।

वर्ष 2016 में हुए राज्यसभा चुनाव के दौरान अनुराग गुप्ता पर गड़बड़ी करने का आरोप लगा था। निर्वाचन आयोग की जांच और निर्देश के बाद 29 मार्च 2018 को रांची के जगन्नाथपुर थाना में गुप्ता के खिलाफ आईपीसी की धारा 171 बी और 171 के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई थी। चुनाव आयोग ने एफआइआर करने के अलावा एडीजी अनुराग गुप्ता के विरुद्ध विभागीय कार्रवाई चलाने का भी निर्देश दिया था।

उल्लेखनीय है कि झारखंड विकास मोर्चा के प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने राज्यसभा चुनाव 2016 में कथित गड़बड़ी की शिकायत को लेकर 2017 में एक सीडी जारी की थी। सीडी में भाजपा उम्मीदवार को वोट देने के लिए पूर्व मंत्री योगेंद्र साव और एडीजी अनुराग गुप्ता के बीच बातचीत का जिक्र था। इसके बाद आयोग के प्रधान सचिव विरेंद्र कुमार ने रांची आकर मामले की जांच की थी।

जांच के बाद 13 जून 2017 को निर्वाचन आयोग ने अनुराग गुप्ता के खिलाफ एफआइआर और विभागीय कार्रवाई चलाने का निर्देश दिया था। मरांडी ने कहा था कि कांग्रेस विधायक निर्मला देवी को वोट देने से रोकने के लिए उनके पति और पूर्व मंत्री योगेंद्र साव को एडीजी अनुराग गुप्ता ने दो दिन में 26 बार फोन कर लालच और धमकियां दी थी। सीडी में एक जगह योगेंद्र साव से गुप्ता कहते हैं कि अभी तीन-चार साल रघुवर सरकार रहेगी, आपको बहुत ऊंचाई तक ले जाएंगे बात मानने पर दिक्कत होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)