Thu. Nov 14th, 2019

केन्द्र का झारखंड और बिहार सरकार को निर्देश – एम्स के निर्माण कार्य में तेजी लाएं

1 min read

नयी दिल्ली : केन्द्र सरकार ने झारखंड में प्रस्तावित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के निर्माण कार्य में तेजी लाने के लिए राज्य सरकार को निर्देश दिया है। इसके साथ ही, बिहार में सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटलों के निर्माण कार्य का भी निर्देश दिया है। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी चौबे ने सोमवार को यहां सम्बद्ध अधिकारियों और निर्माण एजेंसी के साथ समीक्षा बैठक में यह निर्देश दिया।

बैठक में दोनों राज्यों के वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारियों ने हिस्सा लिया। मंत्री ने कहा कि हर हाल में फरवरी 2020 तक सुपर स्पेशलिटी अस्पतालों का काम पूरा हो जाना चाहिए। आउटडोर और इंडोर की व्यवस्था पूरी करनी होगी।

गौरतलब है कि दोनों राज्यों पर्याप्त चिकित्सा सुविधा न होने के कारण मरीजों को दिल्ली के एम्स में इलाज करवाना पड़ता है। इसके मद्देनजर केन्द्र ने पटना में एक एम्स का निर्माण करवाया है और एक झारखंड के देवघर में भी निर्माण चल रहा है। पिछले माह देवघर में निर्माणाधीन एम्स के पहले शैक्षणिक सत्र की शुरुआत हो गई।

पहले सत्र में 50 सीटों के लिए नामांकन किया गया है। फिलहाल शैक्षणिक सत्र का संचालन देवघर के पंचायत प्रशिक्षण संस्थान में किया जा रहा है। देवघर में लगभग 1103 करोड़ की लागत से एम्स का निर्माण कार्य प्रगति पर है। पटना एम्स की देख-रेख में शुरू हुए पहले सत्र में 50 सीटों पर दाखिले हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)