Sat. Jan 16th, 2021

भाजपाई कल तक खोज रहे थे आज ‘मेवा’ मिला तो मौन हो गए : लालू प्रसाद

1 min read

रांची : बिहार में नीतीश कुमार की नवगठित सरकार में जदयू विधायक मेवालाल चौधरी को शिक्षा मंत्री बनाए जाने पर प्रमुख विपक्षी दल राजद ने सत्तारूढ़ भाजपा और जदयू को निशाने पर ले लिया है।

चारा घोटाले के सजायाफ्ता राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने एक ट्वीट करके कहा है कि, ’’विडंबना देखिए जो भाजपाई कल तक मेवालाल को खोज रहे थे आज मेवा मिलने पर मौन धारण किए हैं। तेजस्वी जहां पहली कैबिनेट में पहली कलम से 10 लाख नौकरियां देने को प्रतिबद्ध थे वहीं नीतीश ने पहली कैबिनेट में नियुक्ति घोटाला करने वाले मेवालाल को मंत्री बना अपनी प्राथमिकता बता दिया है।’’

मेवालाल चौधरी तारापुर सीट से चुनाव जीते हैं। उन्होंने पूर्व केंद्रीय मंत्री जयप्रकाश नारायण यादव की बेटी राजद उम्मीदवार दिव्या प्रकाश को हराया है। मेवालाल बिहार कृषि विश्वविद्यालय (बीएयू सबौर) भागलपुर में कुलपति भी रहे हैं।

वर्ष 2012-2013 में लगभग 160 सहायक प्राध्यापक और कनीय वैज्ञानिकों की नियुक्ति में अनियमितता का मामला सामने आने के बाद मेवालाल के खिलाफ जांच बैठाई गई थी। साथ ही उन पर मुकदमा भी दर्ज हुआ। बाद में उन्होंने जमानत ले ली।

अब राजद और अन्य विपक्षी दलों ने इसे मुद्दा बनाकर उछाल दिया है। राजद ने भी अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से कई ट्वीट कर बिहार में नीतीश कुमार की नई सरकार के साथ केंद्र सरकार पर हमला बोला है।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)