Sun. Jan 17th, 2021

भाजपा ने टीवी चैनलों के एग्जिट पोल को बताया साजिश

गया : भाजपा के कई नेताओं ने टीवी चैनलों के मालिकों को एक्जिट पोल के नतीजों के नाम पर एनडीए के खिलाफ साजिश रचने का आरोप लगाया है। नेताओं ने कहा कि जिन चैनलों ने शनिवार को महागठबंधन के पक्ष में आंकड़े दिखाएं है,उन्हीं चैनलों की विश्वसनीयता 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव और कई अन्य चुनाव को लेकर की गई एक्जिट पोल में दांव पर लग चुकी है।

भाजपा नेता अखौरी निरंजन प्रसाद, विजय कुमार, शिव कुमार भैय्या सहित कई अन्य नेताओं ने कहा कि 2015 में ऐसे सभी चैनल भाजपा के नेतृत्व में एनडीए सरकार के गठन की भविष्यवाणी अपने एक्जिट पोल में करके जगहसांई करा चुके हैं। सभी जानते हैं कि भाजपा को पिछले चुनाव में 54 और सहयोगियों को 04 सीट मिली थीं।

भाजपा नेताओं का आरोप है कि टीआरपी घोटाले की जांच यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सीबीआई को सौंप दी है। टीआरपी के आधार पर विज्ञापन की दरें तय होती हैं। टीआरपी घोटाले में देश के प्राय:सभी बड़े चैनलों के नाम सामने आये हैं। ऐसे में ऐसे टीवी चैनलों के मालिकों ने एक्जिट पोल के नतीजों के नाम पर भाजपा और सहयोगियों को दिग्भ्रमित करने की साज़िश रची है।

नेताओं ने अपने को नंबर एक चैनल का दावा करने वाले चैनल पर चुटकी लेते हुए कहा है कि एक्जिट पोल में भाजपा को मात्र 55 सीट दी है जबकि लालू यादव और नीतीश कुमार के महागठबंधन के दौर में अकेले भाजपा ने 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में 54 सीटों पर जीत हासिल की थी।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)