राहुल गांधी के वीडियो पर हो रहे विवाद को लेकर TMC सांसद महुआ मोइत्रा ने BJP पर कटाक्ष करते हुए कहा कि, भाजपा के बीमार ट्रोल इंचार्ज को वही करना चाहिए, जो वह बहुत अच्छे से कर लेते हैं. जैसे चाय की केतली में ये लोग बीयर पीना. वहीं तसलीमा नसरीन ने कहा कि राजनेता के नाइट क्लब में जाने में गलत क्या है.

नेपाल के एक पब में राहुल गांधी का वीडियो वायरल होने के बाद राजनीति में बयानबाजी का दौर फिर शुरू हो गया है. बीजेपी ने राहुल गांधी और कांग्रेस के लेकर कटाक्ष किया है. वहीं, राहुल के समर्थन में अब टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा से लेकर लेखिका तसलीमा नसरीन उतर गए हैं. मोइत्रा ने बीजेपी पर तंज करते हुए ट्वीट किया कि इस धरती पर राहुल गांधी या कोई और अपने निजी समय में नाइट क्लब या शादी में जाता है तो इससे किसी को क्या लेना-देना हो सकता है.
बीजेपी पर लगाया आरोप
सांसद महुआ मोइत्रा ने इस मामले को लेकर बीजेपी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि, भाजपा के बीमार ट्रोल इंचार्ज को वही करना चाहिए, जो वह बहुत अच्छे से कर लेते हैं. उन्होंने कहा कि जैसे चाय की केतली में ये लोग बीयर पीते हैं. वहीं जानी-मानी बांगलादेशी लेखिका तसलीमा नसरीन ने भी इस मामले में ट्वीट किया है. उन्होंने लिखा है कि, कोई राजनेता नाइट क्लब में जाता है तो इसमें गलत क्या है.

कांग्रेस ने दी सफाई

दरअसल, कांग्रेस नेता राहुल गांधी इन दिनों नेपाल के निजी दौरे पर हैं. उनके इस दौरे का एक वीडियो भाजपा ने ट्वीट किया, जिसमें वह नेपाल के एक नाइट क्लब में दिख रहे हैं. इस पर कांग्रेस ने कड़ी प्रतिक्रिया जताते हुए कहा कि वह मित्र राष्ट्र में एक पत्रकार मित्र की शादी में गए हुए हैं. भाजपा के सोशल मीडिया विभाग के प्रमुख अमित मालवीय ने यह वीडियो ट्वीट किया और उसके बाद यह चर्चा में आ गया. वीडियो को ट्वीट करने के साथ ही मालवीय ने लिखा कि राहुल गांधी उस वक्त भी नाइट क्लब में थे, जब जब मुंबई पर (आतंकवादी) हमला हुआ था. आज जब उनकी पार्टी में घमासान मचा है, तब भी वह नाइट क्लब में ही हैं. उनकी यह निरंतरता जारी है.

दोस्त की शादी में नेपाल गए हैं राहुल गांधी
इस पर कांग्रेस महासचिव रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि राहुल एक निजी वैवाहिक कार्यक्रम में सम्मिलित होने नेपाल गये हैं. मित्रों के विवाह में सम्मिलित होना कोई अपराध नहीं है. गौरतलब है कि राहुल गांधी काठमांडू में में अपनी नेपाली मित्र सुमनिमा उदास की विवाह में शामिल होने पहुंचे हैं. वहीं, म्यांमार में नेपाल के राजदूत रह चुके सुमनिमा के पिता भीम उदास ने कहा कि बेटी के विवाह में शामिल होने का निमंत्रण हमने राहुल गांधी को दिया है.