Sun. Jul 5th, 2020

गुजरात में बंधक बनाए गए 83 मजदूर, विधायक से लगायी मदद की गुहार

1 min read

देवघर : गुजरात के मेहसाणा में एक मिल मालिक द्वारा देवघर और जामताड़ा के 83 मज़दूरों को बंधक बनाकर काम करवाये जाने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है।  सारठ विधायक और पूर्व कृषि मंत्री रणधीर प्रसाद सिंह ने इस बाबत मेहसाणा ( गुजरात) के डीएम को सभी मज़दूरों का नामजद सूची सलंग्न करते हुए मिल मालिक के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करते हुए उन सभी मज़दूरों को तुरन्त वापस कराए जाने का अनुरोध किया है। रणधीर सिंह ने मेहसाणा के एसपी को भी इसकी सूचना भेज दी है।

गौरतलब है कि मेहसाणा स्थित पशुपति कोट्स पीन एल एल पी मिल मील में कार्यरत सारठ और जामताड़ा के 83 मज़दूरों ने रणधीर सिंह को इस आशय की जानकारी दी। मजदूरों ने बताया है कि उक्त मील मालिक द्वारा जबरन उनसे काम लिया जा रहा है और यदि वे सब काम पर नहीं जाते तो उनके साथ गाली-गलौज एवं मारपीट किया जाता है। मज़दूरों ने विधायक को लिखे पत्र में सभी 83 मज़दूरों को बंधक से मुक्त करवाकर घर वसपस लौटने का अनुरोध किया है।

 उल्लेखनीय है कि रणधीर सिंह ने बंधक बने सभी मज़दूरों के नाम के साथ मोबाइल नम्बर भी पुलिस अधीक्षक को उपलब्ध कराया गया है। जिसमें अमित यादव,चुटर यादव,रामदेव रवानी, गौरीशंकर रवानी,अमित पतरा, सुखलाल महरा, माणिक यादव, निमाय यादव, कैलाश यादव, बलराम यादव, सुभाष यादव सहित कुल 83 शामिल हैं।

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)