Wed. Apr 1st, 2020

जन्मदिन के बहाने 16 बच्चों को बनाया बंधक, रेस्क्यू के लिए आईजी रवाना

1 min read
  • सिरफिरे की कैद से बच्चों को बचाने लखनऊ से एटीएस रवाना

  • हाल ही में जमानत पर छूटकर आया है आरोपी

  • छुड़ाने पहुंची पुलिस व ग्रामीणों पर की फायरिंग और बमबाजी

  • योगी ने बुलाई बैठक, मांगे एनएसजी कमांडो

कानपुर : प्रदेश के फर्रुखाबाद जिले में सजायाफ्ता अपराधी ने गुरुवार को गांव के 16 बच्चों को घर बुलाकर तहखाने में बंधक बना लिया। बच्चों को छुड़ाने पहुंची पुलिस व परिजनों पर सिरफिरे ने बमबाजी के साथ फायरिंग भी की। इस हमले में इंस्पेक्टर और सिपाही सहित चार लोग घायल हुए हैं।

कई घंटों से पुलिस बंधक बच्चों को छुड़ाने में लगी है लेकिन बदमाश रुक-रुककर मकान के अंदर से फायरिंग कर रहा है। इस मामले पर सूबे के डीजीपी ओपी सिंह ने संज्ञान लेते हुए एटीएस टीम को मौके के लिए रवाना कर दिया है। जबकि कानपुर रेंज के आईजी मोहित अग्रवाल को घटनास्थल के लिए फर्रुखाबाद भेजा गया है।

फर्रुखाबाद के थाना मोहम्मदाबाद क्षेत्र में गांव करथिया का रहने वाला सुभाष बाथम हाल ही में जेल से जमानत पर छूट कर आया है। गुरुवार को दोपहर बाद अपराधी ने अपने घर में गांव के बच्चों को जन्मदिन के बहाने बुलाया और फिर उन्हें कैद कर लिया। मामले की जानकारी पर जब बच्चों के परिजन पुलिस के साथ पहुंचे तो बदमाश ने फायरिंग व बमबाजी की। बमबाजी में इंस्पेक्टर और सिपाही सहित चार लोग घायल हुए हैं। घटना की जानकारी पर एसपी अनिल कुमार भारी पुलिस बल के साथ पहुंचे। करीब आठ घंटे से अधिक समय बीत जाने के बाद भी बदमाश से बच्चों को नहीं छुड़ा पाने पर प्रशासन ने एटीएस टीम को मौके के लिए रवाना किया है।

डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि हमारी प्राथमिकता बच्चों की सुरक्षा है। एटीएस टीम के अलावा मौके पर आईजी कानपुर परिक्षेत्र मोहित अग्रवाल को रवाना कर दिया गया है। पुलिस के साथ जिलाधिकारी भी मौके पर मौजूद हैं। वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस पूरे घटनाक्रम को गंभीरता से लेते हुए प्रशासन को बच्चों की सुरक्षा को ध्यान में रखकर कार्यवाही करने के साथ अफसरों के साथ बैठक बुलाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)