मक्का में हज यात्रा के दौरान 68 भारतीयों की मौत, गर्मी से मरने वालों का कुल आंकड़ा 600 पार

Riyadh: एक तरफ भारत में इस बार रेकॉर्ड तोड़ गर्मी पड़ रही है. वहीं सऊदी अरब में भी गर्मी का कहर देखने को मिल रहा है. आलम ये है कि भीषण गर्मी के सितम के बीच मक्का में हज के दौरान 600 से अधिक तीर्थयात्रियों की मौत हो चुकी है. जिनमें 68 भारतीय नागरिक भी शामिल है. सऊदी अरब में एक राजनयिक ने बुधवार को कहा कि इस साल हज यात्रा के दौरान 68 भारतीय नागरिकों की मौत हुई है, जिससे कुल मौतों की संख्या 600 से अधिक हो गई है. नाम न बताने की शर्त पर बात करने वाले राजनयिक ने एएफपी को बताया, “हमने लगभग 68 लोगों की मौत की पुष्टि की है… कुछ की मौत प्राकृतिक कारणों से हुई है और इनमें कई बुजुर्ग तीर्थयात्री थे और कुछ की मौत मौसम की स्थिति के कारण हुई है, ऐसा हम मानते हैं.”

अरब राजनयिकों ने बताया कि मरने वालों में 323 मिस्रवासी और 60 जॉर्डनवासी शामिल हैं, साथ ही ये भी साफ किया गया कि मिस्त्र के सभी लोगों की मौत का कारण गर्मी ही रही.  इंडोनेशिया, ईरान, सेनेगल, ट्यूनीशिया समेत और देशों ने भी मौतों की पुष्टि की है, हालांकि कई मामलों में अधिकारियों ने कारण नहीं बताया है. एएफपी के अनुसार अब तक कुल 645 लोगों की मौत की सूचना दी गई है. पिछले साल 200 से अधिक तीर्थयात्रियों की मौत की सूचना मिली थी, जिनमें से अधिकांश इंडोनेशिया के थे. सऊदी अरब ने मौतों के बारे में जानकारी नहीं दी है.

भारतीयों की मौत की पुष्टि करने वाले राजनयिक ने कहा कि कुछ भारतीय तीर्थयात्री लापता भी हैं, लेकिन उन्होंने सटीक संख्या बताने से इनकार कर दिया. उन्होंने कहा, “ऐसा हर साल होता है… हम यह नहीं कह सकते कि इस साल यह असामान्य रूप से अधिक है.” “यह पिछले साल के समान ही है, लेकिन आने वाले दिनों में हमें और जानकारी मिलेगी.” पिछले कई सालों से हज सऊदी अरब की भीषण गर्मी के दौरान होता रहा है. पिछले महीने प्रकाशित एक सऊदी अध्ययन के अनुसार, जिस क्षेत्र में अनुष्ठान किए जाते हैं, वहां का तापमान हर दशक में 0.4 डिग्री सेल्सियस (0.72 डिग्री फ़ारेनहाइट) बढ़ रहा है.

 

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours