Sat. Jan 23rd, 2021

चार दिवसीय जिला स्तरीय पुस्तक मेले का शुभारंभ

16.12.17

उपायुक्त डॉ मनीष रंजन ने कही पुस्तकों के माध्यम से जीवन को नयी दिशा दे सकते हैं

खूंटी :उपायुक्त डॉ मनीष रंजन ने शुक्रवार को कचहरी मैदान में राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा आयोजित पुस्तक मेला का बतौर उद्घाटन करने के बाद छात्रों और नागरिकों को संबोधित कर रहे थे। पुस्तक मेला 15 से 18 दिसंबर तक चलेगा। उन्होंने कहा कि आज खूंटी के लिए ऐतिहासिक अवसर है, पुस्तकों से साक्षात्कार करने का। पुस्तकों से सकारात्मक सोच के साथ वैल्यू एडिशन होता  हैं।

उन्होंने कहा कि अच्छी पुस्तकें व्यक्ति का सबसे अच्छा दोस्त होती हैं। व्यक्ति के अंदर असीमित शक्ति होती है। उसे पहचानने की जरूरत है। पुस्तकों के माध्यम से इस शक्ति को सही दिशा दी जा सकती है। जो अपने जीवन में अनुभव का लाभ नहीं उठा पाते हैं, वे पुस्तकों के माध्यम से अपने जीवन को एक नई दिशा दे सकते हैं।

उपायुक्त ने कहा कि एंथनी रॉबिन्स 17 साल की उम्र  10वीं में फेल हो गये। एक दिन वे पुस्तक मेले में गए जो उनके जीवन का टनिंर्ग प्वाइंट साबित हुआ। इसके बाद उन्होंने प्रतिदिन एक पुस्तक का अध्ययन करना शुरू किया। पांच वर्ष के पश्चात 22 वर्ष की उम्र तक उन्होंने फॉर्चुन कंपनी के साथ सात कंपनी के मालिक हुए।

उन्होंने कहा कि आप दोस्त तो बहुत बनाते हैं लेकिन एक सच्चा दोस्त आपके लिए पुस्तक ही हो सकता है। उन्होंने विद्यार्थियों एवं पुस्तक प्रेमियों से अपील की कि आप चार दिनों तक लगने वाले इस मेले का लाभ अवश्य उठाएं। पुस्तक मेले में स्टॉल लगाने वाले पुस्तक प्रकाशकों व जिला प्रशासन के लोगों को इसके लिए साधुवाद भी दिया।

उपायुक्त ने पुस्तक मेले में लगे स्टॉलों का निरीक्षण भी किया। इस अवसर पर अपर समाहर्ता रंजीत कुमार लाल व अनुमंडल पदाधिकारी प्रणब कुमार पाल ने भी लोगों को संबोधित किया। जिला शिक्षा पदाधिकारी भलरियन तिर्की ने धन्यवाद ज्ञापन किया। इस अवसर पर नजारत उपसमाहर्ता राकेश कुमार, जिला शिक्षा अधीक्षक सुरेश चंद्र घोष, सहायक कार्यक्रम पदाधिकारी व कौटिल्य बुक के प्रकाशक कमलनयन पंकज के अलावा विभिन्न स्कूली के बच्चे काफी संख्या में उपस्थित थे।

 

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)