Fri. Oct 30th, 2020

कोपर्डी बलात्कार-हत्याकांड : निर्भया जैसी घटना, तीन दोषियों को सजा-ए-मौत

1 min read

महाराष्ट्र : तीन दोषियों को सजा-ए-मौत महाराष्ट्र के अहमदनगर में हुए कोपर्डी गैंगरेप और मर्डर केस में कोर्ट ने तीनों दोषियों को मौत की
सजा सुनाई है। डिस्ट्रक्टि सेशन कोर्ट ने इस केस में जितेंद्र बाबूलाल शिंदे, संतोष गोरख भवाल और नितिन गोपीनाथ को दोषी ठहराया था।

क्या है मामला

13जुलाई 2016 को 9वीं क्लास में पढ़ने वाली छात्रा की गैंगरेप के बाद निर्मला हत्या कर दी गई थी। मराठा समुदाय से ताल्लुक रखने वाली पीड़िता का शव 13 जुलाई को अहमदनगर जिले के कोपर्डी गांव में मिला था।

बीते साल 13 जुलाई को अपने दादा से मिलकर घर लौटते वक्त 15 साल की नाबालिग लड़की को मुख्य आरोपी जितेंद्र शिंदे ने अगवा कर लिया था।

इसके बाद शिंदे ने लड़की के साथ रेप किया और उसे टॉर्चर भी किया। बाद में शिंदे ने अपने दोस्तों को भी बुला लिया. इसके बाद तीनों आरोपी लड़की को सुनसान इलाके में घसीटकर ले गए और उसकी हत्या कर दी.

यह घटना दिल्ली के निर्भया कांड जैसी ही भयावह घटना थी। लड़की के बाल खींचे गए थे। दांतों को तोड़ दिया गया था और उसके शरीर पर दांतों से काटने के निशान थे।

दोषी जितेंद्र बाबूलाल शिंदे, संतोष गोरख भवाल और नितिन गोपीनाथ को कोट ने फांसी की सजा सुनाई है।

12 thoughts on “कोपर्डी बलात्कार-हत्याकांड : निर्भया जैसी घटना, तीन दोषियों को सजा-ए-मौत

Comments are closed.

shares
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)