देश

माध्यमिक परीक्षा का रिजल्ट घोषित, लड़कियों का दबदबा

22.05.2019

कोलकाता : पश्चिम बंगाल माध्यमिक परीक्षा का रिजल्ट मंगलवार सुबह घोषित कर दिया गया है। इस बार भी पश्चिम बंगाल की कोलकाता की तुलना में जिले के छात्रों ने बेहतर प्रदर्शन किया है। टॉप फाइव में कोलकाता का एक भी छात्र नहीं है। इस साल सफलता का दर 86.07 प्रतिशत रहा है। टॉप टेन में 51 छात्र हैं। इनमें से लगभग सभी जिले के छात्र हैं। 700 नंबर में से, 694 अंक (99.94 प्रतिशत) हासिल कर पूर्व मेदिनीपुर के मोहम्मदपुर देशप्राण विद्यापीठ के सौगत दास ने पूरे राज्य में टॉप किया है। सफलता के मामले में पूर्व मेदिनिपुर जिला सबसे आगे रहा। इस जिले में 96.01प्रतिशत छात्र पास हुए हैं।

पश्चिम बंगाल माध्यमिक शिक्षा परिषद के अध्यक्ष कल्याणमय गांगुली ने मंगलवार सुबह 9:00 बजे पत्रकार सम्मेलन कर परीक्षा परिणामों की घोषणा की। उन्होंने सौगत दास के टॉप करने की जानकारी देने के साथ बताया कि फरक्का गर्ल्स हाई स्कूल की श्रेयसी पाल और कूचबिहार इला देवी हाई स्कूल की देवस्मिता साहा 691 अंक प्राप्त कर दूसरे स्थान पर रही हैं। इनका नंबर 691 है। तीसरे स्थान पर रायगंज गर्ल्स हाई स्कूल की कैमेलिया रॉय और शांतिपुर म्षूनिसिपल हाई स्कूल के ब्रतिन मंडल हैं। इनका प्राप्तांक 689 है जबकि 687 अंक प्राप्त कर अलीपुरद्वार के बारबिसा हाई स्कूल के अरित्र साहा ने चौंथा स्थान हासिल किया ।

उल्लेखनीय है कि 12 फरवरी को माध्यमिक परीक्षा शुरू हुई थी 88 दिनों बाद परिणाम घोषित किया गया है। नियमानुसार 90 दिनों के अंदर परिणाम घोषित करना पड़ता है। इस बार नकल पर लगाम लगाने के लिए माध्यमिक शिक्षा परिषद ने काफी कठोर कदम उठाए थे लेकिन फिर भी परीक्षा शुरू होने से आधे घंटे के अंदर प्रत्येक दिन का प्रश्न पत्र सोशल साइट पर वायरल हो गया था। इसकी जांच में जुटी सीआईडी ने एक पूरे गिरोह का खुलासा किया था जिसमें दो परीक्षार्थी भी पकड़े गए थे। वेस्ट बंगाल माध्यमिक रिजल्ट बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट  पर जारी किया गया है। इन दोनों के अलावा वेस्ट बंगाल माध्यमिक रिजल्ट कुछ प्राइवेट वेबसाइट्स पर भी जारी किया है। इन प्राइवेट वेबसाइट्स की जानकारी हइइरए की तरफ से रिजल्ट नोटिस में दी गई है। छात्रों की सहूलियत के लिए बोर्ड की तरफ से माध्यमिक रिजल्ट मोबाइल ऐप के ज़रिए भी जारी किया जाएगा।