देश

बंगाल में हिंसा की आशंका के मद्देनजर 200 कंपनी केंद्रीय बलों की तैनाती

22.05.2019

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में चुनाव बाद संभावित हिंसा के मद्देनजर 200 कंपनी केंद्रीय बलों की तैनाती की गई है। मंगलवार को यह जानकारी विशेष पुलिस पर्यवेक्षक विवेक दुबे ने दी है। उन्होंने बताया कि निर्वाचन आयोग ने उत्तर कोलकाता के एक पोलिंग बूथ पर हुए मतदान को रद्द कर दिया है। नतीजों के आने से पहले आगामी 22 मई को इस पोलिंग बूथ पर पुनर्मतदान होगा। वहीं, मतगणना के दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए यहांभारी संख्या में केंद्रीय बलों की 200 कंपनियां तैनात करने के आदेश जारी किए जा चुके हैं।

विवेक दुबे ने मतदान के बाद होने वाली मतगणना में संभावित हिंसा से निपटने के लिए केंद्रीय बल तैनात किए हैं। दुबे ने बताया कि पश्चिम बंगाल में अंतिम चरण के मतदान के दौरान 710 कंपनी केंद्रीय बलों की तैनाती हुई थी। इनमें से 510 कंपनियों को राज्य से बाहर भेज दिया गया है। बाकी 200 कंपनियों को राज्य भर में तैनात किया गया है।

उल्लेखनीय है कि पश्चिम बंगाल में हिंसक हालात की वजह से अंतिम चरण के चुनाव के दौरान प्रचार को देशभर के बाकी राज्यों की तुलना में 20 घंटे पहले ही रोक दिया गया था। भाटापाड़ा विधानसभा क्षेत्र में मतदान बीतने के बाद से लगातार हिंसा का दौर जारी है जो मंगलवार को अपने चरम पर पहुंच गया है।